सावधान: राशनकार्डों को लेकर अलर्ट मोड़ पर जिला पूर्ति विभाग। जांच शुरू, कहीं पड़ न जाये सस्ता राशन महंगा

राशनकार्डों को लेकर अलर्ट मोड़ पर जिला पूर्ति विभाग। जांच शुरू, कहीं पड़ न जाये सस्ता राशन महंगा

देहरादून। सरकार द्वारा राष्ट्रीय खाद सुरक्षा योजना सफेद और गुलाबी राशन कार्ड धारक कृपया ध्यान दें। अगर आप इस योजना के अंतर्गत नहीं आ रहे हैं, तो अपना राशन कार्ड तुरंत जिला पूर्ति विभाग को वापस करें नहीं तो खाद्य विभाग आपके खिलाफ बड़ी कार्रवाई कर सकता है।

राशनकार्ड को लेकर फिर जिला पूर्ति विभाग अलर्ट मोड पर है। 15 हजार रुपये प्रतिमाह से अधिक आय वाले परिवारों को सावधान रहना है।

यदि उनके पास सफेद यानी गरीब रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाला राशन कार्ड है, तो वह तत्काल उसे बदल लें। विभाग की जांच में अगर आप अपात्र पाए गए तो कार्ड से अब तक लिए गए मुफ्त और सस्ते राशन के पैसे भी भरने पड़ सकते हैं।

यदि ऐसी कार्रवाई हुई तो बहुत मुश्किल होगी। सालों का उपयोग किया फ्री व सस्ते गल्ले का हिसाब-किताब लंबा बैठेगा।

शासन के निर्देश पर जिला पूर्ति विभाग फिर से राशनकार्डों का खास तौर पर बीपीएल (पीएचएच/ सफेद) औऱ अंत्योदय (एएचवाइ/गुलाबी) कार्डों की जांच को अभियान शुरू हो गया है।

Advertisements

अगर संबंधित मानक में नहीं आते हैं और किसी वजह से आपके पास सफेद या गुलाबी राशन कार्ड है, तो उसे तत्काल विभाग को लौटा दें। ऐसा करने पर भविष्य में होने वाली दंडात्मक कार्रवाई से बचा जा सकता है।

क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी रवि सनवाल ने बताया कि, ऐसे सफेद राशनकार्ड धारक जो उपरोक्त के अंतर्गत आते हैं। उनके लिए यह अंतिम अवसर है। राज्य खाद्य योजना यानी पीले राशनकार्ड में बदल सकते हैं।

जांच प्रारंभ हो गई है, अपात्र पाय जाने पर संबंधित के विरुद्ध सुसंगत धाराओ में कानूनी कार्रवाई होगी। बाजार मूल्य लगभग 32 रुपये प्रतिकिलो की दर से वसूली भी होगी।

यह परिवार बदल लें राशनकार्ड

  • 15 हजार रुपये प्रतिमाह आय वाले परिवार
  • सेवानिवृत्त फौजी, अर्द्धसैनिक व रिटायर्ड पेंशनर कर्मचारी
  • मोटर कार, ई-रिक्शा, बस, ट्रक, जेसीबी
  • दो हेक्टेयर सिंचित भूमि से अधिक
  • वार्षिक आय पर आयकरदाता
  • चौपहिया वाहन वाले को नहीं मिलेगा अंत्योदय कार्ड