एक्सक्लूसिव: नियमों को ठेंगा दिखाते डीलर। कृषि भूमि पर नियमविरुद्ध प्लाटिंग, कुम्भकर्णी नींद सोया संबंधित विभाग

नियमों को ठेंगा दिखाते डीलर। कृषि भूमि पर नियमविरुद्ध प्लाटिंग, कुम्भकर्णी नींद सोया संबंधित विभाग

रिपोर्ट- सलमान मलिक
रुड़की। अवैध निर्माण व नियमविरुद्ध काटी जा रही अवैध कॉलोनियों के खिलाफ भले ही HRDA एक्शन मोड़ में हो, लेकिन कुछ प्रोपर्टी डीलर इस कार्रवाई से भी सबक नही ले रहे है। शहर से लेकर देहात क्षेत्रो में जमकर नियमविरुद्ध कॉलोनियों का खेल खूब धड़ल्ले से चल रहा है। कृषि भूमि पर रातों-रात बिना अनुमति प्लाटिंग कर दी जाती है और बेखौफ प्रोपर्टी डीलर जमकर ग्राहकों का बेवकूफ बनाते है और मोटी रकम ऐंठ लेते है।

इतना ही नही ये प्रोपर्टी डीलर सरकार को राजस्व का चूना भी लगा रहे है। बाहरी प्रोपर्टी डीलरों ने ऐसी कृषि भूमियों को चिन्हित किया हुआ है, जहां एक के सौ करने वाली मशीन लगाई जा सकती है।

हाल ही में नैशनल हाइवे पर डवलप हुए बढ़ेडी से मंगलौर बाईपास के किनारे ग्रामीणों की खेती की जमीन सोना उगलने लगी, मतलब जमीन के दाम आसमान छू गए, इसी बात का फायदा उठाकर कुछ बाहरी प्रोपर्टी डीलरों ने खेती की जमीन पर कॉलोनी काटने का मंसूबा तैयार किया और संबंधित विभाग की आंखों से ओझल होकर कॉलोनियो को काटना शुरू कर दिया, बाकायदा प्लाटिंग होना शुरू हुआ तो चर्चाएं आम हुई।

Advertisements

सूत्र बताते है कि, डीलरों ने कुछ अधिकारियों से सांठ-गांठ भी की और इस गोरखधंधे पर नारियल फोड़ डाला। बाईपास नगला इमरती के पास भी एक ऐसी ही कॉलोनी का मामला देखा गया, बताया जा रहा है, यहां कॉलोनी काटने की तैयारी जोरों पर है, प्लॉट बनाने के लिए बाकायदा ईंटो का जखीरा भी मंगाया गया है।

गौरतलब है कि, इसके आस-पास अधिकांश जगह खेती की है, बहरहाल ये तो अधिकारी ही बता सकते है कि, ये कॉलोनी नियमानुसार या नियमविरुद्ध काटी जा रही है। लेकिन ठोस सूत्र तो यही बताते है कि, प्रॉपर्टी डीलर ने विभाग से बिना अनुमति लिए ही कॉलोनी का शुभारंभ कर दिया है।

अब देखने वाली बात ये होगी कि, एक्शन मोड़ में दिखने वाला HRDA विभाग ऐसी ओझल कॉलोनियों को भी चिन्हित कर कार्रवाई करता है या नहीं!