हत्या: तब्लीगी जमात की बहस में युवक को मारी गोली

तब्लीगी जमात की बहस में युवक को मारी गोली

 

– 10 नामजद समेत 17 के खिलाफ मुकदमा दर्ज

प्रयागराज। उत्तरप्रदेश के प्रयागराज में कोरोना का संक्रमण फैलने के पीछे तबलीगी जमात की बहस में कुछ लोगों ने घर में घुसकर युवक की गोली मार हत्या कर दी। वारदात के बाद ग्रामणों ने एक हमलावर को पकड़ कर उसकी धुनाई कर दी और पुलिस को सौंप दिया। वहीं पुलिस ने 10 नामजद समेत 17 लोगों के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।बताते चलें कि, प्रयागराज के करेली इलाके में रविवार सुबह कुछ लोग देश में कोरोना का संक्रमण फैलने के पीछे तबलीगी जमात में शामिल विदेशियों का हाथ बता रहे थे, इस चर्चा में शामिल लोग तबलीगी जमात में शामिल होने आए विदेशियों की भूमिका पर सवाल उठाने लगे तो गांव के कुछ लोगों ने इस पर अपना विरोध जताया।

इस बात पर अचानक उनमें मारपीट शुरू हो गई और कुछ लोगों ने घर में घुसकर लोटन निषाद की गोली मारकर हत्या कर दी। इस वारदात को अंजाम देकर भाग रहे हमलावरों में से मो० सोना को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और उसकी पिटाई करके पुलिस को सौंप दिया। करेली पुलिस ने 10 नामजद लोगों समेत 17 के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। इतना ही नहीं गांव में एहतियातन पीएसी भी तैनात की गई है। बख्शी मोढ़ा के बिरजू निषाद ने छोटे भाई लोटन की हत्या के मामले में मो० सोना, सादिक, सेबू, जाकिर, अली, नूर अख्तर, नौसाद, शादाब, फारूक, फरहान और 7 अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। मृतक के भाई

Advertisements

बिरजू ने बताया कि, वह अपने छोटे भाई लोटन और गांव के पूर्व प्रधान देशराज समेत कुछ लोगों के साथ रविवार सुबह 9 बजे घर के बाहर किराने की दुकान पर कोरोना संक्रमण पर चर्चा कर रहे थे कि, विदेश से आने वालों के कारण ही दिल्ली में आयोजित तबलीगी जमात में यह बीमारी फैली है। इस वजह से देश के हर कोने में संक्रमण बढ़ता गया है। इस दौरान गांव का मो० सोना अपने कुछ साथियों के साथ वहां से गुजर रहा था, उसने इन लोगों की बात सुनकर आपत्ति जताई तो दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया। मारपीट में पूर्व प्रधान समेत कई लोगों को चोटें आई हैं। लेकिन ग्रामीणों के बीच-बचाव से मामला खत्म हो गया।

थोड़ी देर बाद मो० सोना दस-पंद्रह लोगों को लेकर आया और उनके परिजनों पर हमला बोल दिया। आरोपी फारूक ने ललकारा कि गोली मार दो। तो नौसाद ने उसके छोटे भाई लोटन की घर के अंदर दरवाजे पर ही गोली मारकर हत्या कर दी और फायरिंग करते हुए आरोपी जब भागने लगे तो ग्रामीणों की मदद से सोना को मौके पर ही पकड़ लिया गया। इस सनसनीखेज वारदात की जानकारी मिलते ही आईजी केपी सिंह, एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज, एसपी सिटी बृजेश श्रीवास्तव समेत कई थानों की फोर्स घटनास्थल पर पहुंच गई।

आरोपियों की तलाश में पुलिस ने दबिश दी और गांव में शांति बनाए रखने के लिए पुलिस के अलावा पीएसी भी तैनात कर दी की गई है। दो पक्षों में कहासुनी के बाद विवाद हुआ था। इसमें युवक की हत्या कर दी गई। दो लोगों को पुलिस ने पकड़ा है। इस प्रकरण में आरोपियों के खिलाफ एनएसए की कार्रवाई की जाएगी। – सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज, एसएसपी