वीडियो: दीया, मोमबत्ती, मोबाइल, टोर्च जलाने वाली बात हास्यास्पद

दीया, मोमबत्ती, मोबाइल, टोर्च जलाने वाली बात हास्यास्पद

देहरादून। एक बार फिर हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री मोदी ने समस्त देशवासियों के लिए आह्वान किया है कि, रविवार रात 9 बजकर 9 मिनट पर अपने घरों की बालकनी में दीया, मोमबत्ती, मोबाइल, टोर्च जलाएं। इस क्रम में उत्तराखंड कांग्रेस की प्रदेश प्रवक्ता गरिमा मेहरा दसौनी ने एक वीडियो क्लिप जारी करते हुए कहा कि, मुझे प्रधानमंत्री की यह बात बहुत ही हास्यास्पद लग रही है।

गरिमा ने यह भी कहा कि, मैं पूछना चाहती हूँ प्रधानमंत्री मोदी से कि, ऐसा करने से देश में जो सेनेटाइजर, मास्क की कमी आ रही है क्या वो पूरी हो जाएगी? क्या देश के अंदर वेंटिल्टर्स की कमी पूरी हो जाएगी? क्या डॉक्टर्स, नर्सिंग स्टाफ के पास जो पीपी किट नहीं है उसमें इजाफा हो जाएगा? क्या आइसोलेशन वार्ड में बेड़ों की कमी पूरी हो जाएगी? क्या वो लैब जहां कोरोना का टेस्ट हो रहा है उनकी संख्या में इजाफा हो जाएगा?

Advertisements

 

गरिमा ने यह भी कहा कि, कहीं ना कहीं ऐसा लगता है कि, प्रधानमंत्री जी देशवासियों को यह बताना चाहिए था कि, इस संकट की घड़ी में जो प्रैक्टिकल प्रॉब्लम्स लॉकडाउन से आ रही हैं उनसे कैसे निपटना है। मजबूरों, गरीबों, प्रवासियों को जो दिक्कतें आ रहीं हैं जेनुइन प्रॉब्लमस आ रहीं है उनसे कैसे निपटा जाए हैं। सर्वायविंग स्किल्स प्रधानमंत्री जी को बताना चाहिए था प्रॉब्लम का सॉल्यूशन उनको बताना चाहिए था कि, किस तरह से वो इनसे निपट रहें है। अच्छा होता यदि वो प्रधानमंत्री की गरिमा के अनुरूप बात करते तो।

मैं देशवासियों से अपील करना चाहूंगी कि, इस वक्त जो आपके पास संसाधन है बहुत विवेकपूर्ण तरीके से उनका इस्तेमाल करें क्योंकि आने वाला समय हमारे लिए चुनौतीपूर्ण हो सकता है। जो भी महिलाएं सिलाई-बुनाई जानती हैं, वो बचे हुए कपड़ो का मास्क बना कर अपने आसपास क्षेत्र के लोगों को वितरित कर सकती है। यह मेरी देश के लोगों से अपील है कि, अपने आस पास के लोगों की जितनी मदद हो सकती है वो करें कोई बुजुर्ग, असहाय, या बेरोजगार है उसकी मदद करें यह देश हित में होगा।