बड़ी खबर: उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी। 10 से हुए 16

उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी। 10 से हुए 16

देहरादून। कोरोना के आज छह नए मरीज चिन्हित हुए हैं। इनमें से 5 मरीज देहरादून तथा एक उधम सिंह नगर बाजपुर से है। इन 6 लोगों की कोरोना जांच पॉजिटिव आई है। इधर हरिद्वार जिले के गेंडी खत्ता गांव को क्वॉरेंटाइन कर दिया गया है। जबकि अभी तक 2 मरीज ही ठीक हो कर घर जा पाए हैं। हालांकि राहत की बात यह है कि, आज 92 लोगों के सैंपल नेगेटिव आए हैं।

अभी तक कुल 825 सैंपल कोरोना कोविड 19 की टेस्टिंग के लिए भेजे जा चुके हैं। इनमें से 671 सैंपल नेगेटिव पाए गए हैं। जबकि 138 सैंपल की जांच अभी आनी बाकी है। फिलहाल विभिन्न अस्पतालों में 152 लोग आइसोलेशन में है। जबकि संस्थागत और घरों में 8557 लोगों को क्वॉरेंटाइन किया गया है, जिसमें से 296 तबलीगी जमात के अनुयायी संस्थागत आवासों में क्वॉरेंटाइन किए गए हैं। स्टेट कंट्रोल रूम और अन्य हेल्प लाइन में आने वाली कॉल की संख्या भी 619 रही तथा 779 कॉल का फॉलोअप किया गया।

Advertisements

बताते चलें कि, चौतरफा निशाने पर रहने वाले तबलीगी जमात से लौटे लोगों ने कोरोना वारियर सहित लॉकडाउन में रह रहे लोगों की चिंताएं बढ़ा दी है। सरकार ने इनको पकड़ने पर भी इनाम जारी कर दिया है। जबकि तबलीगी जमात के कई लोग स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं से भी झगड़ रहे हैं और अभद्रता कर रहे हैं। दून अस्पताल के सीएमएस ने इसकी शिकायत डीआईजी से की है वहीं, मुस्लिम इलाकों में से एक पटेल नगर के इलाके में सर्वे का कार्य कर रहे स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं से भी तबलीगी जमात के कुछ लोग भिड़ पड़े।

जाहिर है कि, यदि समाज के सभी तबकों के द्वारा इन्हें अपनी अपनी तरफ से जांच और इलाज कराने में सहयोग हेतु समझाने के लिए पहल नहीं की गई तो फिर यह समस्या बढ़ सकती है। यह समय चौतरफा आलोचनाओं की मार झेल रहे मुस्लिम समाज को राजनीतिक रूप से अलग-थलग करने का नहीं, बल्कि संवेदनशील नजरिया अपना कर उन्हें जांच करने और सहयोग करने के लिए राजी करने का है। इसी में सारे समाज की भलाई है।