कोरोना के उपचार हेतु आपदा राहत कोष का इस्तेमाल क्यों नहीं करती सरकार: आनंद

कोरोना के उपचार हेतु आपदा राहत कोष का इस्तेमाल क्यों नहीं करती सरकार

– कोरोना कोविड- 19 के उपचार हेतु सेंटरों की लिस्ट जारी करे सरकार
– 100 के 100 वार्डों में सैनिटाइजेशन करवाये सरकार
– सरकार ने अब तक असहाय व्यक्तियों के लिए कितने रैन बसेरों की व्यवस्था की?

देहरादून। आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता रविंद्र सिंह आनंद ने सरकार से आपदा राहत कोष को जनहित में इस्तेमाल करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि, आपदा राहत कोष को उत्तराखंड सरकार क्यों इस्तेमाल नहीं कर रही ? जबकि प्रधानमंत्री ने आपदा राहत कोष को कोरोना (कोविड 19) से निपटने के लिए खर्च की बात कही है।

Advertisements

वहीं दूसरी ओर उन्होंने सरकार द्वारा सैनिटाइजेशन सेंटर की लिस्ट जारी करने को भी कहा है। जिससे आम जनता आपातकाल की स्थिति में अपने टेस्ट करवा सके। साथ ही प्रकोप के बढ़ जाने पर सरकार द्वारा क्या तैयारियां की गई है जनता से सांझा की जायें। रविन्द्र ने कहा कि देहरादून नगर निगम द्वारा पूरे 100 वार्डों में सैनिटाइजेशन स्प्रे किया जाना जनहित में आवश्यक है। परंतु निगम कर्मी लॉक डाउन के नाम पर सैनिटाइजेशन नहीं कर रहे हैं।

जिससे कोरोना वायरस के बढ़ने की आशंका हो सकती है। उन्होंने उत्तराखंड सरकार को कोरोना (कोविड 19) के विरुद्ध ठोस कदम उठाने की मांग की। जिससे आम जनता में बढ़ रहे डर को कम किया जा सके। साथ ही सरकार द्वारा रैन बसेरों की संख्या बढ़ाकर उसमें असहाय व्यक्तियों के ठहरने एवं भोजन की व्यवस्था कराए जाना जनहित में आवश्यक है। क्योंकि कोरोना के चलते मंदिरों पर आश्रित असहाय व्यक्तियों को आसरा देना सरकार का कर्तव्य है।