दुःखद: दुष्कर्म पीड़िता ने लगाई फांसी

दुष्कर्म पीड़िता ने लगाई फांसी

देहरादून। देश में दुष्कर्म की घटनाएं लगातार बढ़ती ही जा रहीं है। शासन प्रशासन लगातार इन घटनाओं को रोकने के पुरजोर प्रयास में जुटे है। बावजूद इसके ऐसी घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रहीं है। हाल ही में एक दुष्कर्म पीड़िता ने खुद को फांसी लगा ली। जिसकी जानकारी में सितारगंज सरकड़ा चौकी प्रभारी हरविंदर कुमार ने बताया कि, पीलीभीत रोड के एक गांव निवासी किशोरी 20 मार्च की रात घर के नजदीक खेत में गयी थी। इस दौरान गांव के ही दो युवक पवन राणा और शिव कुमार ने किशोरी को पकड़कर उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया।

आरोपियों के चंगुल से बचकर किसी तरह घर पहुंची पीड़िता ने घटना की जानकारी परिजनों को दी। इसके बाद पीड़िता के परिजनों ने आरोपियों के परिजनों से बात की। चौकी प्रभारी ने यह भी बताया कि, पूछताछ में यह साफ हुआ कि, ग्रामीण मामला दबाने की कोशिश कर रहे थे। इसीलिए दुष्कर्म की शिकार हुयी एक किशोरी ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। मामले में तीन दिन पहले हुवे दुष्कर्म की जानकारी पुलिस को किशोरी की खुदकुशी के बाद मिली।

Advertisements

बताया जा रहा है कि, परिजनों और ग्रामीणों द्वारा मामले को रफा-दफा करने की कोशिशों के चलते पीड़िता ने फांसी लगाई है। परिजनों से पूछताछ के आधार पर पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। परिजनों ने पूछताछ में बताया कि, किशोरी चाहती थी कि परिवार पुलिस को मामले की जानकारी दे। वह दोनों आरोपियों को कानूनी कार्रवाई के बाद सजा दिलवाना चाहती थी। लेकिन, गांव के कुछ लोगों को जब जानकारी मिली तो वे पीड़िता के परिजनों के पास आ गये। साथ ही इन लोगों ने पीड़िता के पिता को आरोपियों के परिवार से बात करने के लिये भी दबाव बनाया था।