Exclusive: बेरोजगारों के रोजगार मामले में प्रदेश सरकार बेसुध

बेरोजगारों के रोजगार मामले में प्रदेश सरकार बेसुध

– मोर्चा लड़ेगा बेरोजगारों के हक़ की लड़ाई

देहरादून। विकासनगर स्तिथ जनसंघर्ष मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश में हजारों रिक्त पड़े पदों को भरने की मांग को लेकर मोर्चा अध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी के नेतृत्व में तहसील घेराव कर महामहिम राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी, विकासनगर सौरभ असवाल को सौंपा।

इस प्रकरण की जानकारी देते हुए मोर्चा अध्यक्ष ने कहा कि, प्रदेश सरकार की लापरवाही के कारण प्रदेश के भिन्न-भिन्न विभागों में हजारों पद रिक्त होने के बावजूद भी आज तक युवाओं को रोजगार नहीं मिल पाया। जबकि चुनाव के समय युवाओं से रोजगार के मामले में बड़े-बड़े वादे किए गए थे। प्रदेश में क, ख, ग श्रेणी के कई हजार पद रिक्त होने के बावजूद अब तक वर्तमान सरकार इन 03 सालों के कार्यकाल में मात्र दो-तीन हजार लोगों को ही रोजगार दे पाई है।

Advertisements

जबकि अधिकतर मामलों में पहले ही अधियाचन हो चुका था। महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि, प्रदेश में भिन्न-भिन्न विभागों में क, ख, ग श्रेणी के हजारों पद रिक्त चले आ रहे हैं। कई पद पदोन्नति होने के उपरान्त रिक्त होंगे। जिन पर सीधी भर्ती के माध्यम से युवाओं को रोजगार मिल सकता है। प्रदेश के लाखों युवा रोजगार की आस में ओवरएज हो चुके हैं तथा कई कगार पर हैं। जिस अवधारणा एवं आशा को लेकर युवाओं ने राज्य का निर्माण कराया था, वह अवधारणाएं चूर-चूर हो गई है तथा बेरोजगार, परिवार के ताने सुन-सुन कर तिल-तिल मरने को मजबूर है।

प्राप्त आंकड़ों के अनुसार रिक्त पदों की संख्या

● शिक्षा विभाग में 6397
● चिकित्सा महकमे में 4803
● वन महकमें में 3079
● गृह विभाग में 2074
● सिंचाई विभाग में 1365
● सहकारिता 214
● सचिवालय प्रशासन 416
● पशुपालन 947
● समाज कल्याण 264
● शहरी विकास विभाग में 157
● औद्योगिक विकास 92
● राजस्व में 405
● कार्मिक विभाग 167 तथा ऊर्जा, ग्रामीण विकास, खाद्य आपूर्ति, सूचना, पेयजल, परिवहन, पंचायती राज, महिला कल्याण एवं बाल विकास, दुग्ध विकास, वित्त, आबकारी, वाणिज्य कर आदि दर्जनों विभागों में हजारों पद रिक्त चले आ रहे हैं।

आज तहसील घेराव में मोर्चा अध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी सेहत मोर्चा महासचिव आकाश पंवार, विजयराम शर्मा, डाॅ ओपी पंवार, मौ असद, मौ गालिब, प्रवीण शर्मा पीन्नी, सुमन, सोमदेश प्रेमी, नारायण सिंह चौहान, सुशील भारद्वाज, प्रदीप कुमार, विरेन्द्र सिंह, फराद आलम, विक्रमपाल, मनोज कुमार, धर्म सिंह, गय्यूर, भीम सिंह बिष्ट, सन्दीप ध्यानी, रैहबर अली, किशन पासवान, महेंद्र सिंघल, गुरविन्दर सिंह, एम अन्सारी, जयकृत नेगी, भजन सिंह नेगी, राजेंद्र सिंह पंवार, केपी सक्सेना, आरपी भट्ट, केसी चन्देल, सचिन कुमार, अजबीर गुसाईं, एसएन शर्मा, मो नसीम, मो इस्लाम, मामराज, जयन्त चैहान, पारितोष सरकार, सचिन शर्मा, आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे।