एनएसयूआई ने किया केंद्र सरकार और एबीवीपी का पुतला दहन

एनएसयूआई ने किया केंद्र सरकार और एबीवीपी का पुतला दहन

 

– जेएनयू में छात्र-छात्राओं के साथ हुई मारपीट पर गुस्साए एनएसयूआई कार्यकर्ता

देहरादून। जेएनयू कैंपस में फीस वृद्धि के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन के दौरान टीचर्स और स्टूडेंट्स के साथ मारपीट की घटना को लेकर आज दिनांक- 06/01/20 को एनएसयूआई ने केंद्र सरकार और एबीवीपी का पुतला दहन किया। इसी क्रम में कार्यकर्ताओं ने कहा कि, जेएनयू के अंदर घुसकर छात्र-छात्राओं, शिक्षकों पर रॉड, लाठियों के हिंसक हमले से देश के हर छात्र के माता-पिता और युवाओं के लिए गंभीर चिंता का विषय है।

 

इस अत्यंत दुःखद, शमर्नाक हमलों की एनएसयूआई कड़ी निंदा करती है। साथ ही यह भी कहा कि, भाजपा की विभाजनकारी राजनीति विश्वविद्यालयों में युवाओं के जीवन को बर्बाद करने पर उतारू है। जिस प्रकार से नकाबपोश बदमाशों द्वारा स्टूडेंट्स पर बुरी तरह से हमला किया गया है पुलिस को तत्काल हिंसा रोकनी चाहिए थी और शांति बहाल करनी चाहिए थी।।

Advertisements

 

एनएसयूआई के जिला अध्यक्ष सौरभ ममगाँई ने केंद्र सरकार पर आरोप लगते हुए कहा कि, देश किस तरह प्रगति करेगा जब स्टूडेंट्स विश्वविद्यालय के अंदर ही सुरक्षित नहीं है।

 

पुतला दहन करने में उपस्थित कांग्रेस महानगर अध्यक्ष लाल चंद शर्मा संग हिमांशु रावत, उदित थपलियाल, वसु शर्मा, अंकित बिष्ट, गोविंद रावत, अक्षित रावत, विपुल गौड़, लाल प्रभात, आकाश ठाकुर, अनिरुद्ध राणा, नमन शर्मा, पार्थ, संजीव, आर्यन सेमवाल,अखिल, शशांक जोशी आदि थे।