तीर्थ पुरोहित समाज ने फूंका मुख्यमंत्री व पर्यटन मंत्री का पुतला

तीर्थ पुरोहित समाज ने फूंका मुख्यमंत्री व पर्यटन मंत्री का पुतला

 

रिपोर्ट- शम्भू प्रसाद
रुद्रप्रयाग। आज दिनांक- 11/10/19 दिन बुधवार को पीडब्ल्यूडी गेस्टहाउस (गुप्तकाशी) के प्रांगण में केदारनाथ तीर्थ पुरोहित समाज की एक बैठक आहूत हुई। जो कि, महेश शुक्ला (पूर्व उपाध्यक्ष केदारसभा) की अघ्यक्षता में उत्तराखंड चार धाम देवस्थानम प्रबंधन विधेयक 2019 के विरोध में बैठक आयोजित की गयी थी। जिसमें उपस्थित हुए सभी व्यक्तियों ने प्रदेश सरकार से उक्त विधेयक को वापस लिये जाने की मांग की।

 

बताते चलें कि, उक्त बैठक में सभी वक्ताओं ने एक सुर में कहा कि, सरकार ने हम सभी लोगों को विश्वास में न लेकर बल्कि, दरकिनार करते हुए उक्त विधेयक को पारित कर दिया। हम सभी इसका पुरज़ोर विरोध करते है। इसके उपरान्त पीडब्ल्यूडी गेस्टहाउस, गुप्तकाशी से स्थानीय बाज़ार होते हुए वसुकेदार तिराहे तक व वसुकेदार तिराहे से वापस बस स्टैंड गुप्तकाशी तक जुलूस व नारेबाज़ी कर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत व पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज का प्रतीकात्मक पुतला दहन किया गया।

Advertisements

 

जूलुस में सरकार विरोधी नारेबाज़ी करते हुए उक्त विधेयक को वापस लिये जाने की पुरज़ोर मांग की गई, अन्यथा आगामी चुनावों में सरकार को इसके गम्भीर परिणाम भुगतने की चेतावनी भी दी गई। इसके साथ ही अग्रिम रणनीति के तहत दिनांक- 20/12/19 को श्रीनगर गढ़वाल में केदारनाथ-बद्रीनाथ के हकहकूक धारियों द्वारा उपरोक्त समिति के बैनर तले एक जूलुस/प्रदर्शन का कार्यक्रम किया जाना प्रस्तावित है।

उक्त कार्यक्रम में मुख्य रूप से कुबेर नाथ पोस्थी महामंत्री केदारसभा, राजकुमार तिवारी उपाध्यक्ष, केशव तिवारी पू०जि०पं०सदस्य, गणेश तिवारी जि०पं०स०गुप्तकाशी, माधव कर्नाटकी, विनोद शुक्ला पूर्व जेष्ठ प्रमुख, भगवती प्रशाद तिवारी पूर्व अध्यक्ष केदारसभा, सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।