जनजीवन अस्पताल बना जंजाल अस्पताल

जनजीवन अस्पताल बना जंजाल अस्पताल

 

गुवारा कौशाम्बी। जनपद मुख्यालय मंझनपुर से कुछ किलो मीटर की दूरी पर जन जीवन अस्पताल चलाया जा रहा है।इस अस्पताल में कोई भी मानक में पूर्ण रूप से डॉक्टर नर्स नहीं है। इस अस्पताल में आठ बेड डालकर हाई स्कूल पास लोगो को रख कर उनसे इलाज करवाया जा रहा है। जहाँ आए दिन मरीज की मौत हो रही है।

 

यदि कथित चिकित्सको से ऐसे ही इलाज करवाया गया तो किसी दिन कोई बड़ा हादसा अस्पताल में हो सकता है। जन जीवन हॉस्पिटल मुकीमपुर करारी भरवारी रोड पर स्थित है।यदि सीएमओ द्वारा इस अस्पताल की जांच हो जाए तो इसकी स्थिति उजागर हो सके इस अस्पताल में ना तो अग्निशमन प्रमाण पत्र है ना तो बिल्डिंग कोड है।

Advertisements

 

यदि यह सब कागज पूर्ण रूप से तैयार नहीं हैं, और डॉक्टर की डिग्री की भी सही तरीके से संपूर्ण जांच हो कि, डॉक्टर की डिग्री कितनी है। यदि यह सब जांच होने के बाद अगर इस अस्पताल का अच्छे से निरीक्षण सीएमओ करें तो इस निरीक्षण में कथित डॉक्टर की सारी करतूत सामने आ जाएंगी इस अस्पताल में मरीजों से इलाज के नाम पर लूटा जाता है।