अधिवक्ता को महिला दरोगा की धमकी, कहा कोतवाली आकर मिल

अधिवक्ता को महिला दरोगा की धमकी

– सैंया भय कोतवाल तो डर काहे का….

देहरादून। देवरिया जनपद मे पुलिस वालो का आतंक इतना बढ़ गया है कि, दीवानी कचहरी देवरिया के अधिवक्ता सिद्धार्थ पाठक के रामगुलाम टोला स्थित आवास पर आज गुरुवार को सायं काल करीब 5:00 बजे पुलिस लाइन में तैनात एक महिला दरोगा तथा एक महिला सिपाही ने पहुंचकर अधिवक्ता तथा उसके परिजनों को विभिन्न प्रकार से धमकी दी तथा कोतवाली थाने में आकर मिलने को कहा।

 

 

बताया जा रहा है कि, अधिवक्ता ने कुछ साथियों के साथ कोतवाली थाने में पहुंचकर उक्त महिला दरोगा के बारे में जब जानकारी प्राप्त की तब पता चला कि, उक्त महिला दरोगा का नाम सुषमा तिवारी है, तथा वह कोतवाली थाने में तैनात न होकर पुलिस लाइन में तैनात हैं।

Advertisements

 

 

बताते चलें कि, अधिवक्ता सिद्धार्थ पाठक उनके घर में उनके बड़े भाई सुरज पाठक की पत्नी आए दिन अपने दरोगा भाई से झूठी शिकायत करती रहती हैं। जिस पर मदनपुर थाने में तैनात उक्त दरोगा जिनका नाम महेंद्र नाथ मिश्रा बताया जाता है, वह अपनी खाकी वर्दी का इस्तेमाल कर डराने धमकाने का काम करते रहते हैं।

 

 

इसी कड़ी में आज गुरुवार को दरोगा महेंद्र मिश्र की सहपाठी दरोगा सुषमा तिवारी भी बिना किसी प्राथना पत्र अथवा लिखित शिकायत के बिना किसी उच्चाधिकारी के आदेश के गैर कानूनी तरीके से अधिवक्ता के घर पर पहुंचकर अधिवक्ता एवं उसके पिता गुलाब पाठक तथा सबसे बड़े भाई सन्नी पाठक व उनकी पत्नी को धमकाने का काम किया।

 

 

यह भी बताया गया कि, अधिवक्ता सिद्धार्थ पाठक ने उक्त प्रकरण की शिकायत सीओ सिटी तथा कोतवाल से भी की, जिस पर सीओ सिटी ने विधिक कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।