आराकोट के आपदा प्रभावित बच्चों को दून के समाज सेवियों ने बांटी शिक्षण सामग्री

आराकोट के आपदा प्रभावित बच्चों को दून के समाज सेवियों ने बांटी शिक्षण सामग्री

 

– आराकोट के आपदा प्रभावित बच्चों को दी गई किताबे….

देहरादून। बीते कुछ दिनों पूर्व में जनपद उत्तरकाशी के आराकोर्ट में आई आपदा से प्रभावित छात्रों को देहरादून के कुछ समाजसेवियों ने शिक्षण सामग्री व एनसीईआरटी की किताबें उपलब्ध कराई है। आराकोर्ट, टीकोची व चिंवा इंटर काॅलेज के 150 से अधिक छात्र-छात्राओं को पुस्तकें, कोपिया, ज्योमेट्री बाॅक्स व बैग उपलब्ध कराए गए हैं। मोरी तहसीलदार बीआर स्याल की मौजूदगी में यह सामग्री छात्रों को वितरित की गई।

उल्लेखनीय है कि, पिछले दिनों उत्तरकाशी के मोरी ब्लाॅक में आराकोर्ट के पास बादल फटने की घटना घटित हुई थी, जिसमें बड़ी संख्या में जानमाल का नुकसान भी हुआ था। आराकोर्ट, टीकोची व चिंवा में स्कूली छात्रों की किताबे और शिक्षण सामग्री भी आपदा की भेंट चढ़ गई थी, जिसको ध्यान में रखते हुए देहरादून के समाजसेवियों ने इन छात्रों को शिक्षण सामग्री व बैग आदि उपलब्ध कराने का बीड़ा उठाया।आराकोट क्षेत्र में बांटी शिक्षण सामग्री 2

Advertisements

देहरादून से 4 सदस्यीय दल ने आराकोर्ट पहुंच कर आपदा प्रभावित स्कूलों के अध्यापकों की मौजूदगी में तहसीलदार के हाथों से छात्रों को शिक्षण सामग्री वितरित की। इस मौके पर मोरी के तहसीलदार आर बी स्याल, हाजी इकबाल हुसैन, अहमद हसन, एमएस मलिक, मोहम्मद शाहनजर, राजकीय आर्दश इंटर कालेज आराकोट के अध्यापक नरेश रावत, कुशाल सिंह राणा, ओमप्रकाश, लायक राम, इंटर कालेज टिकोची के अध्यापक कैलाश चैहान, इंटर कालेज चिंवा के अध्यापक मंदीप सिंह, निवर्तमान प्रधान जगदीप सिंह राणा उर्फ बन्टू राणा, संजय राणा आदि मौजूद रहे।

आराकोट क्षेत्र में बांटी शिक्षण सामग्री 3

सहयोग प्रदान करने वालों में मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष बिलालुर्रहमान, डोल्फिन स्टूडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन, निदेशक दून पीजी काॅलेज संजय चैधरी, साइबर रैडिक्स एकेड़मी के निदेशक अंकुर चंद्रकांत, लायन्स क्लब सेलाकुइ के पूर्व चेयरमैन लतीफ चौधरी, क्रीमी आइसक्रीम के मेहरा जी, अनिल अग्रवाल, संजय मुदगल, ताराचन्द सेमवाल, मधु जैन, अनिल डोभाल, सुमित ग्रोवर, पंजाब नेशनल बैंक युनियन के सचिव गोपाल तोमर, कोहिनूर ज्वैलर्स के हाजी इकबाल हुसैन, इंदर बुक एजेंसी के सुनेजा, हर्षवर्धन, मोहम्मद शाहनजर आदि शामिल है।