स्टिंग प्रकरण को जीवित रखकर भाजपा कर रही हरीश रावत की छवि को धूमिल करने का प्रयास

स्टिंग प्रकरण को जीवित रखकर भाजपा कर रही हरीश रावत की छवि को धूमिल करने का प्रयास

 

– पूर्व सैनिक स्टिंग प्रकरण में हरीश रावत के साथ

देहरादून। कांग्रेस के पूर्व सैनिक विभाग के प्रदेश अध्यक्ष कैप्टन बलबीर सिंह रावत ने स्पष्ट किया है कि, अगर 20 सितंबर को भाजपा बदले की भावना से सीबीआई के द्वारा हरीश रावत पर कानूनी कार्रवाई करवाती है, तो प्रदेश के पूर्व सैनिक सड़कों पर उतर कर फैसले का पुरजोर विरोध करेंगे।

 

कैप्टन रावत ने कहा कि, भ्रष्टाचार के अन्य मामलों में सरकार और सीबीआई मूकदर्शक बनी हुई है। केवल बदले की भावना से स्टिंग प्रकरण को ही पुनर्जीवित रखकर हरीश रावत को अपमानित कर उनकी छवि को घूमिल करने की कोशिश की जा रही है। साथ ही कांग्रेस पार्टी की छवि को देश-प्रदेश में खराब करने का असफल प्रयास किया जा रहा है। प्रदेश के पूर्व सैनिक हरीश रावत के आभारी हैं कि, उन्होंने अपने मुख्यमंत्री के कार्यकाल में प्रदेश के सैनिकों और पूर्व सैनिकों को भरपूर मान-सम्मान देकर के मनोबल को बढ़ाया है।

Advertisements

 

कैप्टन रावत ने यह भी कहा कि, हरदा ने मुख्यमंत्री के रूप में प्रदेश का सुव्यवस्थित तरीके से संचालन कर पर्वतीय प्रदेश की परंपराओं को वास्तविकता और सच्चाई को इमानदारी के साथ आगे बढ़ाते हुए प्रदेश का चौमुखी विकास किया है। इसीलिए भाजपा सरकार देवभूमि में हरीश रावत की लोकप्रियता के प्रभाव को कम करने व कांग्रेस पार्टी को कमजोर करने की नियत से सीबीआई को हथियार के रूप में इस्तेमाल कर रही है।

 

गौरतालब है कि, अब तक स्टिंग प्रकरण का चैप्टर पूरी तरह से बंद किया जाना चाहिए था। यदपि कांग्रेस पार्टी न्यायपालिका का सम्मान व विश्वास और भरोसा करती है। फिर भी अगर हाई कोर्ट का फैसला हरीश रावत के खिलाफ आता है, तो प्रदेश के पूर्व सैनिक पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के समर्थन में सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर होंग।।

– कै०बलबीर सिंह रावत…..