Breaking: आखिर क्यों नहीं थम रही कर्ज लेने की रफ्तार

आखिर क्यों नहीं थम रही कर्ज लेने की रफ्तार

– वर्ष 2018-19 में लिया गया 6000 करोड़ से अधिक का बाजारु कर्ज़….

– जुलाई 2019 तक लिया गया 1000 करोड का कर्ज….

– अगस्त 2019 में फिर 300 करोड़ लेने हेतु आरबीआई को भेजा पत्र….

देहरादून। विकासनगर में मोर्चा कार्यालय में आज पत्रकारों से वार्ता करते हुए जन संघर्ष मोर्चा के अध्यक्ष एवं जीएमवीएन के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा कि, सरकार झूठे आंकड़ों के सहारे प्रदेश की जनता को भ्रमित कर दिव्य स्वप्न दिखा रही है। जबकि धरातल पर स्थिति बड़ी विस्फोटक है। अगर आंकड़ों की बात की जाए तो प्रदेश कर्ज के सहारे चल रहा है, तथा भयानक स्थिति से गुजर रहा है।

Advertisements

 

नेगी ने कहा कि, वित्तीय वर्ष 2019-20 के जुलाई तक सरकार द्वारा 1000 करोड़ का बाजार कर्ज लिया गया। अगस्त में फिर 300 करोड़ का कर्ज प्रदान किए जाने हेतु आग्रह आरबीआई से किया गया।

 

रघुनाथ सिंह नेगी ने यह भी कहा कि, सरकार फर्जी आंकड़ों के सहारे जीडीपी, प्रति व्यक्ति आय, उद्योग, कृषि, आदि क्षेत्रों में इजाफा दिखाकर जनता को गुमराह कर रही है। जबकि स्थिति बिल्कुल इसके उलट है। देखा जाए तो हर क्षेत्र में गिरावट आ रही है, तथा कर्ज का ब्याज चुकाना आने वाले समय में मुश्किल हो जाएगा।

 

मोर्चा ने जनता से आग्रह किया कि, यह राज्य आपका है।तथा आपको हक लेने का अधिकार है, इसलिए निंद्रा त्याग कर उठ खड़े हों। आज पत्रकार वार्ता में मौजूद जनसंघर्ष मोर्चा के अध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी, मोर्चा महासचिव आकाश पंवार, विजय राम शर्मा, मोहम्मद असद, प्रवीण शर्मा पिन्नी, अशोक गर्ग आदि मौजूद थे।