सूचना निदेशालय में लगाकर ताला पत्रकारों ने कहा विज्ञापन हक है हमारा

सूचना निदेशालय

 

सूचना निदेशालय में लगाकर ताला पत्रकारों ने कहा विज्ञापन हक है हमारा

देहरादून। आज दिनांक 26/07/2019 को जिला देहरादून के पत्रकारों द्वारा उत्तराखण्ड सूचना एवं लोक सम्पर्क निदेशालय में ताला जड़ दिया गया। क्योंकि, सूचना विभाग द्वारा प्रदेश के प्रकाशित समाचार पत्रों और न्यूज पोर्टलों की ओर ध्यान न दिए जाने से गुस्साए पत्रकारों ने रिंग रोड स्थित सूचना निदेशालय में तालाबंदी कर ख़ूबजोर प्रदर्शन किया। सूचना विभाग अनदेखी से गुस्साए पत्रकारों ने विभाग की कड़ी निंदा की। धरने के दौरान वरिष्ठ पत्रकारों ने कहा कि, सूचना विभाग प्रदेश के लघु व मझोले समाचार पत्रों और न्यूज पोर्टलों की लगातार अनदेखी कर रहा है।

 

प्रदर्शनकारी पत्रकारों ने लघु व मझोले समाचार पत्रों और न्यूज पोर्टलों को शीघ्र विज्ञापन जारी किए जाने की मांग की। सूचना विभाग की अनदेखी से नाराज पत्रकार आज सुबह करीब 9 बजे सूचना एवं लोक सम्पर्क निदेशालय के मुख्य गेट पर पहुंचे और मुख्य गेट पर ताला जड़ दिया। जब विभागीय अधिकारी व कर्मचारी अपने निर्धारित समय पर सूचना कार्यालय पहुंचे तो मुख्य गेट पर ताला जड़ा देख वहाँ से रफू चक्कर हो गए।

Suchna vibhag

Advertisements

आज के इस धरना प्रदर्शन में पत्रकारों का सिर्फ यही कहना था कि, सूचना विभाग प्रदेश से प्रकाशित लघु व मझोले समाचार पत्रों और न्यूज पोर्टलों के हित पर कुठाराघात कर रहा है। राज्य के समाचार पत्र/पत्रिकाओं को विज्ञापन न देकर दूसरे राज्य के समाचार पत्र/पत्रिकाओं व वेब पोर्टलों को विज्ञापन जारी कर राज्य के पत्रकारों का गला घोंट रहा है। धरने के दौरान वरिष्ठ पत्रकारों ने यह भी कहा कि, समाचार पत्रों और आधुनिक मीडिया, न्यूज़ पोर्टलों के बिना सूचना विभाग का कोई अस्तित्व नहीं है। यह अच्छी तरह से जानते हुए भी विभाग के उच्चाधिकारी विज्ञापन आवंटन से मनमानी कर रहे हैं।

 

हर साल विभाग द्वारा सभी समाचार पत्रों को श्री देव सुमन की पुण्यतिथि पर आधारित विज्ञापन मिलता आ रहा था।लेकिन इस बार विज्ञापन को जारी नहीं किया गया। हरेला पर्व, योग दिवस, और चारधाम यात्रा से संबंधित विज्ञापन भी समाचार पत्र/पत्रिकाओं को नहीं दिया गया। वैसे तो आयोजित जनसभाओं में सरकार प्रदेश में रोजगार देने के बड़े-बड़े वादे करती है। परन्तु समाचार पत्रों व न्यूज़ पोर्टल से जुड़े पत्रकारों को बेरोजगारी का दामन थामने पर मजबूर कर रही है। सभी वरिष्ठ पत्रकारों का कहना है कि, अगर कल सुबह तक उनकी जायज मांगों को विभाग द्वारा पूरा नहीं किया गया तो उनके द्वारा लगातार प्रदर्शन जारी रहेगा।

 

कल सुबह करीब 11 बजे निर्धारित कार्यक्रम अनुसार विभाग की दमनकारी नीतियों के खिलाफ सूचना भवन पर आयोजित बुद्धि-शुद्धि यज्ञ किया जाएगा। आज के इस धरना-प्रदर्शन में भारी मात्रा में पत्रकार एकत्र हुए जिसमें, वरिष्ठ पत्रकार शिव प्रसाद सेमवाल, नरेश मिनोचा, वीरेंद्र दत्त गैरोला, आलोक शर्मा, जीतमनी पैन्यूली, दिनेश शक्ति त्रिखा, हरीश चमोली, भूपेंद्र कुमार, गजेंद्र रावत, पंकज कपूर, रचना अग्रवाल, अनूप डौंडियाल, मनीष वर्मा, चंद्रकला काला, विजय रावत, लक्ष्मी बिष्ट, सुरेंद्र अग्रवाल, विकास गर्ग, अमर सिंह कश्यप, मामचंद शाह, अनुराग, हर्ष शर्मा, शहजाद अली, आदि पत्रकार शामिल हुए।