बड़ी खबर: IAS अधिकारी राम विलास यादव गिरफ्तार। गरमाई राजनीति

IAS अधिकारी राम विलास यादव गिरफ्तार। गरमाई राजनीति

आईएएस रामविलास यादव को आय से अधिक संपत्ति जमा करने के मामले में कल देर रात गिरफ्तार कर लिया गया। गत दिवस आईएएस यादव विजिलेंस के सामने पेश हुए थे और उनसे जरूरी दस्तावेज दिखाने को कहा गया, पर यादव कोई भी दस्तावेज नहीं दिखा पाए और ना ही विजिलेंस के सवालों का जवाब दे पाए। जिसके बाद विजिलेंस ने उनको गिरफ्तार कर लिया।

आज यानी गुरुवार को उनको कोर्ट में पेश कर विजिलेंस उनकी रिमांड लेने की कोशिश करेगी। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे, इसके बाद आखिरकार आईएएस रामविलास यादव को बीती रात 2 बजे विजिलेंस ने हिरासत में ले लिया। जहां आज उनको कोर्ट में पेश किया जाएगा।

साथ ही राज्य सतर्कता विभाग के निदेशक अमित सिन्हा के मुताबिक पूछताछ के बाद उन्हें देर रात गिरफ्तार किया गया, इससे पहले हाईकोर्ट की फटकार के बाद रामविलास यादव बुधवार (22 जून) को देहरादून के विजिलेंस ऑफिस में पूछताछ के लिए पहुंचे थे, कल दोपहर करीब 12:48 बजे के आस-पास एक प्राइवेट कार में अपने अधिवक्ता के साथ रामविलास विजिलेंस के दफ्तर में पहुंचे थे, जहां करीब 14 घटों तक उनसे पूछताछ की गई।

निलंबित आईएएस रामविलास यादव की गिरफ्तारी के मामले में विजिलेंस निदेशक अमित सिन्हा का कहना है कि, रामविलास यादव को रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी। क्योकि इससे पहले पूछताछ में वो सवालों का सही तरीके से जवाब नहीं दे रहे थे।

आपको बता दें कि, आय से 500 फीसदी अधिक सम्पति के मामले के आरोपी है रामविलास यादव। आज 2:00 से 3:00 के बीच कोर्ट में विजिलेंस उनको कोर्ट में पेश करेगी। रामविलास यादव के 6 बैंक खातों को भी फ्रीज किया जा रहा है।

Advertisements

विजिलेंस के मुताबिक उनकी संम्पति में उनकी पत्नी भी हिस्सेदार है, जिस पर उनसे सवाल पूछे गए, जिनका उन्होंने संतोषजनक जवाब नहीं दिया। अब विजिलेंस की टीम उनकी पत्नी की भूमिका की भी जांच करेगी।

इस पूरे प्रकरण पर अब राजनीति भी शुरू हो गयी है, भाजपा जहां इस पर अपनी पीठ थपथपा रही है और अपनी सरकार की इस कार्यवाही की तारीफ कर रही है। वहीं भाजपा प्रवक्ता विनय गोयल ने कहा कि, भारतीय जनता पार्टी का पहले से स्पष्ट कहना है कि, भ्रष्टाचार के लिए उत्तराखंड में कोई जगह नहीं है।

उन्होंने कहा कोई भी अधिकारी कितना ही बड़ा क्यों ना हो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

वहीं कांग्रेस ने यादव के बहाने सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष मथुरा दत्त जोशी का कहना है कि, जीरो टॉलरेंस की सरकार में अधिकारियों के ऊपर बैठने वाले मंत्रियों की भी जांच होनी चाहिए। बिना शह के कोई भी भ्रष्टाचार नहीं पनप सकता।