सड़क की मांग को लेकर 13वें दिन भी ग्रामीणों का धरना जारी। लगाए पुल नहीं तो वोट नहीं के नारे

सड़क की मांग को लेकर 13वें दिन भी ग्रामीणों का धरना जारी। लगाए पुल नहीं तो वोट नहीं के नारे

रिपोर्ट- मनोज नौडियाल
दुगड्डा। यमकेश्वर में जहां 384 किलोमीटर सड़क बनाये जाने का कीर्तिमान बताया जा रहा है, वहीं यमकेश्वर विधानसभा क्षेत्र के दुगड्डा ब्लॉक के जुवां भैड़गॉंव बंगला के निवासी पिछले आठ दिनों से अनिश्चित कालीन धरने पर बैठे हैं।

युवा समिति से जुड़े एवं जुंवा गांव के उप प्रधान जितेन्द्र बिष्ट ने बताया कि, पिछले मार्च 2021 में भी 13वें दिन के लिए जुंवा भैड़ बगंला युवा समिति के द्वारा धरना प्रदर्शन किया था। यमकेश्वर विधायक ने समिति एवं ग्रामीणों को इसका मौखिक आश्वासन दिया था, लेकिन आठ माह से अधिक समय बीत जाने के संबंध में कोई कार्यवाही नहीं हुई है।

वहीं समिति के पदाधिकारियों ने कहा कि, दुगड्डा से ढाई किलोमीटर दूर हनुमंती से आगे लगे गांव जुवां, भेदगांव, बंगला और बोर गांव को इसका लाभ मिलना है। इस पुल से लगभग डेढ हजार लोगों को बरसात में नदी पार करने की समस्या समाप्त हो जायेगी। उन्होंने बताया कि, लंगूर गाड़ पर उक्त पुल बनने से ग्रामीणों की काफी समस्यायें दूर हो जायेगी।

साथ ही उन्होनें कहा कि, यदि उक्त पुल का निर्माण नहीं होता है, तो 2022 के विधानसभा चुनाव में मतदान नहीं किया जायेगा। अतः पुल नही तो वोट नही के नारे को लेकर चलने वाले ग्रामीणों ने आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि, यदि इस बार ग्रामीणों की मांग नहीं मानी गयी तो इस बार चारों गावों के ग्रामीणों द्वारा मतदान नही किया जायेगा।

Advertisements

वहीं ग्रामीणों ने कहा कि, पिछले आठ दिनों से अनिश्चित धरना पर बैठे होने के बाद भी शासन प्रशासन व विभागीय कर्मचारियों द्वारा कोई सुध नहीं ली जा रही है, साथ ही रात्रिकाल में धरने पर बैठे ग्रामीणों को जंगली जानवरों का भय अलग रहता है, यदि धरने पर बैठे ग्रामीणों के साथ कोई अनहोनी होती है तो उसकी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।

धरने पर बैठे ग्रामीणो में मनोज कण्डवाल युवा समिति के अध्यक्ष, राजेन्द्र सिंह संचालक, विनोद सिंह चौधरी, सचिव, जितेन्द्र सिंह बिष्ट, उप प्रधान धनवीर सिंह, दीपक सिंह चौधरी, विनीत सिंह चौधरी, सुधांशु, शशी देवी, यशोदा देवी, सुनीता देवी, आशीष नेगी, मनवर सिंह, मोहित सिहं, राजेश सिंह, संदीप सिंह चौधरी आदि मौजूद रहे।