गजब: कोरोना महामारी के बीच जनमें नवजात बच्चों का नाम मां-बाप ने रखा ‘लॉकडाउन‘ और ‘कोरोना’

कोरोना महामारी के बीच जनमें नवजात बच्चों का नाम मां-बाप ने रखा ‘लॉकडाउन‘ और ‘कोरोना’

गोरखपुर। कोरोना वायरस के कारण भय और संकट के बीच नवजात बच्चों के नाम ‘लॉकडाउन‘ और ‘कोरोना’ रखे जाने की खबर आई है। गोरखपुर में जनता कर्फ्यू के दिन पैदा हुई एक नवजात बच्ची का नाम उसके माता-पिता ने कोरोना रखा है। जबकि एक सप्ताह बाद देवरिया जिले में पैदा हुए नवजात बच्चे का नाम लॉकडाउन रखा गया है। देवरिया में खुखुंदू प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ आरपी त्रिपाठी ने बुधवार को बताया कि, रविवार 30 मार्च की शाम बच्चे ने जन्म लिया और उसका नाम उसके परिवार वालों ने लॉकडाउन रख दिया।

त्रिपाठी ने कहा ‘‘यह आवश्यक है कि, हमें लॉकडाउन का भली-भांति पालन करना चाहिए और खुद को कोरोना वायरस से बचाने के लिए लगातार हाथ धोते रहना चाहिए।’’ ‘लॉक डाउन’ के माता पिता का नाम क्रमशः नीरजा देवी और पवन प्रसाद है। उत्साहित पवन ने कहा कि, रविवार शाम वह अपनी पत्नी को लेकर स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे, जहां एक स्वस्थ बच्चे ने जन्म लिया और उन्होंने उसका नाम ‘लॉकडाउन’ रखा। उन्होंने कहा ‘‘इस समय हम सभी लोग कोरोना वायरस से जूझ रहे हैं। घातक वायरस से बचने के उद्देश्य से पूरे देश में लॉकडाउन सही कदम है।

Advertisements

वहीं गोरखपुर के सोहगौरा गांव निवासी बबलू त्रिपाठी की पत्नी रागिनी ने जनता कर्फ्यू के दिन बेटी को जन्म दिया। उसके चाचा नितेश त्रिपाठी ने बच्ची का नाम ‘कोरोना’ रखा। जिला अस्पताल की स्टाफ नर्स संगीता कुमारी ने बताया कि, ‘‘हमें आश्चर्य हुआ, जब उसके चाचा ने उसका नाम कोरोना रखा। वहीं बच्ची के चाचा ने बताया कि, कोरोना वायरस ने देश को एकजुट कर दिया है। इसलिए हमने अपनी भतीजी का नाम कोरोना रखा।