वीडियो: मित्र पुलिस ने निभाया मित्रता का फर्ज, बेसहारा लोगों को कराया भोजन

मित्र पुलिस ने निभाया मित्रता का फर्ज, बेसहारा लोगों को कराया भोजन

– पुलिस ने विपरीत परिस्थितियों में मुस्तैद रहकर ड्यूटी देकर कराया बेसहारा को भोजन

रिपोर्ट- अमर सिंह कश्यप, इंद्रपाल सिंह
देहरादून। अक्सर देखने सुनने में आता है कि, पुलिस सिर्फ क्राइम और मुजरिम, चोरों को पकड़ने के लिए कार्य करती है। लेकिन इस बार कोरोनावायरस ने पुलिस का एक ऐसा पहलू लोगों के सामने लाकर खड़ा कर दिया है, जिसकी लोग जानकारी नहीं रखते थे, पुलिस जगह-जगह असहाय मजबूर लोगों की मदद करती नजर आई। देहरादून में घंटाघर से लेकर चकराता रोड तथा शिमला बाईपास रोड पर उत्तराखंड की सीमा तथा हिमाचल बॉर्डर तक लॉकडाउन के दौरान जगह-जगह पुलिस पिकेट पर संवाददाता द्वारा जाकर ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों का हाल जाना।

बता दें कि, मौके पर पुलिस कर्मी धूप में खड़े जनसेवा की भावना से कार्य करते नजर आए। जगह-जगह पुलिस कर्मी मजबूर लोगों को खाना खिलाते तथा हिदायत देते हुए नजर आए। साथ ही फालतू घूम रहे लोगों को चेतावनी देते भी पुलिसकर्मी नजर आए। पुलिसकर्मियों के द्वारा यह भी बताया गया कि, यह सारी सुरक्षा के बंदोबस्त पब्लिक के जीवन के लिए सरकार कर रही हैं। यदि जीवन ही नहीं बचेगा तो सारे कार्य व्यर्थ हो जाएंगे। ऐसे में सफाई कर्मी, डॉक्टर, पत्रकार भी अपने मोर्चों पर डटे रहे और सबको कोरोनावायरस के भय के दौरान भी सड़कों पर आकर जनहित कार्यों को अंजाम दिया जा रहा है। लोगों की सुध ली जा रही है।

Advertisements

 

वहीं डॉक्टर मरीजों का इलाज कर रहे हैं, पुलिस लोगों को समझा रही है और सुरक्षा व्यवस्था तथा उनके भोजन पानी और अन्य कार्य की देखभाल कर रही हैं। सफाई कर्मी सफाई कर देने में दिन रात एक कर रहे हैं, और पत्रकार कहां परेशानी है। यह सरकार को बताने का कार्य कर रहे हैं। संवाददाता द्वारा जगह-जगह पर जाकर देहरादून से धर्मावाला, हरबर्टपुर, सहसपुर, सेलाकुई, झाझरा, प्रेम नगर, किशन नगर, जनपथ नयागांव, शीशमबाड़ा, सभावाला तथा कुल्हाल आदि जगहों पर जाकर पुलिसकर्मियों से बात की गई तथा उनके कार्यों की सराहना की गई।