घाटी में पहली बार चोपता मोनाल मोहोत्सव का आयोजन

घाटी में पहली बार चोपता मोनाल मोहोत्सव का आयोजन

 

रिपोर्ट- शम्भू प्रसाद
रुद्रप्रयाग। केदारनाथ विद्यायक मनोज रावत व जिला प्रशासन की पहल पर 14 से 25 फरवरी तक तुंगनाथ घाटी के यात्रा पडाव गुलजार रहेगें। घाटी में पहली बार चोपता मोनाल मोहोत्सव का आयोजन होने से स्थानीय पर्यटन व्यवसाय स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा मिलने के साथ ही जनपद स्तरीय खेल प्रेमियों, पंछी प्रेमियों, पर्वतारोहण तथा फोटोग्राफी में रुचि रखने वाले युवक-युवतियों को भी अपने जौहर दिखाने का सुनहरा अवसर प्राप्त होगा। महोत्सव के आयोजन से स्थानीय जनता व जनप्रतिनिधियों में उत्साह व उमंग का माहौल बना हुआ है।

 

बता दें कि, तुंगनाथ घाटी में पहली बार चोपता मोनाल महोत्सव का आयोजन होने से यहां आने वाले सैलानि पर्यटक व प्रकृति प्रेमी घाटी की धर्मिक सांस्कृतिक गतिविधियों के साथ यहां के प्राकृतिक सौंदर्य से भी रूबरू होंगे। घाटी को प्रकीर्ति ने अपने वैभवो भरपूर दुलार दिया है।

Advertisements

 

घाटी में पोथीबाषा, मक्कूबैं, दुगलबिठा, बन्यकुण्ड, चोपता, भजगलि, रावणशिला, भगवान तुंगनाथ का पावन धाम तथा घाटी के शीर्ष पर चंद्रशिला जैसे हिल स्टेशन ढालदार मखमली बुग्याल मठ मंदिर व अनेक प्रकार की प्रजातियो के पेड़-पौधो की अपार वन सम्पदा है। बसंत ऋतु आगमन के बाद यहां प्रवासी पछियों का आगमन शुरू हो जाता है। महोत्सव के दौरान 14 से 20 फरवरी तक विभिन्न खेलों में रुचि रखने वाले भी प्रतिभाग कर सकते हैं।