भगवान तुंगनाथ की दिवारा यात्रा क्षेत्रीय भ्रमण पर

भगवान तुंगनाथ की दिवारा यात्रा क्षेत्रीय भ्रमण पर

 

– फापंज गांव का भ्रमण कर दो रात्रि प्रवास के लिये पहुंचेगी बरशाल गाँव

रिपोर्ट- शम्भू प्रसाद
ऊखीमठ। पंचगई से विदा होकर देवरा यात्रा पहुंची फापंज पंचकेदारो में तृतीय केदार के नाम से विख्यात तथा 18 वर्षों बाद आयोजित भगवान तुंगनाथ की दिवारा यात्रा ऊखीमठ के पंचगई से विदा होकर रात्रि प्रवास के लिये मदमहेश्वर घाटी के फापंज गांव पहुंची। आज भगवान तुंगनाथ की दिवारा यात्रा फापंज गांव का भ्रमण कर श्रदालुओं की कुशलक्षेम पहुंच कर दो रात्रि प्रवास के लिये बरशाल गाँव पहुंचेगी।

फिर बुधवार को मँगोली गाँव मे आचार्य माहेश्वर प्रसाद मैठाणी, विनोद मैठाणी, जगदम्बा प्रसाद मैठाणी, आशीष मैठाणी, अतुल मैठाणी, जगदीश प्रसाद मैठाणी ने ब्रम्हा बेला पर भगवान तुंगनाथ की उत्सव मूर्तियों का गंगा स्नान किया तथा पंचाग पूजन के तहत भगवान तुंगनाथ सहित दिवारा यात्रा में साथ चल रहे कई देवी देवताओं के निशानों का महाभिषेक कर श्रद्धालुओं को आशीष दिया।

Advertisements

बता दें कि, भगवान तुंगनाथ की दिवारा यात्रा के नगर भ्रमण पर महिलाओं ने देवो का देव होला बाबा तुंगनाथ आशीष सफल हवै जादा तुम्हारौ बाबा तुंगनाथ जैसे पौराणिक जागरों से भगवान तुंगनाथ की महिमा का गुणगान किया। भगवान तुंगनाथ की दिवारा यात्रा जिस घर मे प्रवेश करती हैं उस घर का वातावरण भक्तिमय बन जाता है। गाँव आगमन पर ग्रामीणों ने परम्परा अनुसार भगवान तुंगनाथ को अनेक प्रकार की पूज्यार्थ सामग्रियों से अर्धा लगाकर कर विश्व कल्याण की कामना की।

दिवारा यात्रा के मँगोली गाँव से विदा होने पर महिलाओं और धियानियो में भावुकता बनी रही। जबकी दिवारा यात्रा के फापंज गांव पहुँचने पर ग्रामीणों ने पुष्प अचत्रो से भव्य स्वागत किया। इस मौके पर देवरिया यात्रा प्रभारी युद्धवीर पुष्पवान प्रबन्धक प्रकाश पुरोहित, प्रधान मकु विजयपाल सिंह नेगी, पूर्व छेत्र पंचायत सदस्य सोनिया नेगी, पूर्व प्रधान राय सिंह, धर्मवान सहित सैकड़ों श्रद्धालु मौजूद थे।