निर्भया केस के चारों आरोपियों को होगी 22 जनवरी को फांसी, कोर्ट ने जारी किया डेथ वारंट

निर्भया केस के चारों आरोपियों को होगी 22 जनवरी को फांसी, कोर्ट ने जारी किया डेथ वारंट

 

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप मामले में चारों दोषियों को फांसी के फंदे पर लटकाने की तारीख मुकर्रर हो गई है। दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों के डेथ वारंट को मंजूरी दे दी है। तिहाड़ जेल में 22 जनवरी सुबह 7 बजे उन सब को फांसी दी जाएगी। दोषियों के खिलाफ मृत्यु वारंट जारी करने वाले अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सतीश कुमार अरोड़ा ने फांसी देने के आदेश की घोषणा की। मामले में मुकेश, विनय शर्मा, अक्षय सिंह और पवन गुप्ता को फांसी दी जानी है। उधर, निर्भया की मां ने दोषियों की फांसी की सजा की तिथि मुकर्रर किए जाने के बाद कहा कि, यह आदेश कानून में महिलाओं के विश्वास को बहाल करेगा।

राजनीतिक दलों ने कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, मुझे उम्मीद है कि, महिलाओं के साथ बदसलूकी करने वाले लोगों को इससे सबक मिलेगा कि, वे बच नहीं सकते। कांग्रेस ने भी फैसले का स्वागत करने के साथ ही कहा कि, न्याय मिलने में देर हुई। पार्टी प्रवक्ता सुष्मिता देव ने कहा, ‘हम इसका स्वागत करते हैं। निर्भया के माता-पिता ने सात साल तक संघर्ष किया है और उन्हें हम सलाम करते हैं।’

Advertisements

2012 के दिसंबर में देश की राजधानी दिल्ली में हुए गैंगरेप ने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया था। इससे पहले कोर्ट ने निर्भया मामले की सुनवाई सात जनवरी को करना तय किया था और तिहाड़ प्राधिकारियों को दोषियों को एक सप्ताह में नोटिस जारी करने को कहा था। वहीं, इस दौरान पीड़िता की मां के वकील ने कोर्ट में कहा कि, डेथ वारंट जारी करने में कोई रुकावट नहीं है।