खुले में शौच करना सामाजिक दृष्टिकोण से अमर्यादित आचरण: प्रधान संगीता

खुले में शौच करना सामाजिक दृष्टिकोण से अमर्यादित आचरण

 

– हाथ उठाकर खुले में शौच न करने का दिलाया संकल्प

कौशाम्बी। सरसवां विकासखंड के ऊनों ग्राम पंचायत में खुली बैठक का आयोजन प्राथमिक विद्यालय परिसर में शुक्रवार को ग्राम प्रधान संगीता मिश्रा की अध्यक्षता में संरक्षित की गई। बैठक को संबोधित करते हुए ग्राम प्रधान संगीता मिश्रा ने कहा कि, विकास योजनाओं का उद्देश्य सिर्फ गांव का विकास ही नहीं, बल्कि गांव में रह रहे ग्रामीणों को भी संचालित योजनाओं के लाभ देकर जीवन स्तर को सुधारना है।

उन्होंने कहा कि, सबकी योजना सबका विकास अंतर्गत 2020-21 को लेकर योजना निर्माण के पूर्व ऐसी योजना का चयन करना है, जिससे गांव के विकास को गति मिल सके। बैठक में ग्रामीणों को आवास पेंशन, राशन कार्ड, शौचालय एजॉब कार्ड तथा नाली खड़ंजा सहित अन्य सरकारी योजनाओं पर विस्तार से जानकारी दी गई तथा लोगों को स्वच्छता पर जागरूक किया गया।

Advertisements

स्वच्छाग्रही एवं अध्यक्ष निर्माण समिति अनिल पाण्डेय ने कहा कि, खुले में शौच करना सामाजिक दृष्टिकोण से ना सिर्फ एक अमर्यादित आचरण है, अपितु इससे तमाम संक्रामक बीमारियां फैलती हैं, और स्वास्थ्य भी प्रभावित होता है। अतः आवश्यक है कि, शौच के लिए शौचालय का ही नियमित प्रयोग करें।

 

जिन लोगों ने अभी तक शौचालय नहीं बनवाए हैं, शौचालय बनवा लें। अंत में उन्होंने लोगों को हाथ उठाकर खुले में शौच न करने का संकल्प दिलाया। इस मौके पर ग्राम प्रधान संगीता मिश्रा, सचिव दिनेश सिंह, रोजगार सेवक कोटेदार, ग्राम पंचायत सदस्यों के साथ-साथ भारी संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे।