Breaking: मिट्टी खनन माफियाओं के सामने शासन-प्रशासन हुआ नतमस्तक

मिट्टी खनन माफियाओं के सामने शासन-प्रशासन हुआ नतमस्तक

 

 

– सरकारी जमीन पर पुलिस की नाक के नीचे हो रहा मिट्टी खनन….

– सरकारी जमीन पर जेसीबी मशीनों से निकाली जा रही मिट्टी….

– ट्रेक्टर से मिट्टी खनन होंने से गाँव के लोग परेशान है….

चांदपुर। थाना अमौली चौकी के अंतर्गत अमौली गांव में
सड़कों पर फर्राटा भर रहे ट्रेक्टर से कराया जा रहा रात-दिन मिट्टी खनन। थाना इंचार्ज व अमौली चौकी इंर्चाज बने मूकदर्शक।

Advertisements

 

बता दें कि, जनपद फतेहपुर के चांदपुर थाना व अमौली चौकी के अंतर्गत ग्राम अमौली में सरकारी जमीनों से जेसीबी मशीनों की मदद से मिट्टी का अवैध खनन कर ट्रैक्टरों से ले जाया जा रहा है। वहीं करीब दो से तीन जेसीबी मशीनों द्वारा मिट्टी को धड़ल्ले से निकाला जा रहा है। वहीं चर्चित मिट्टी खनन माफिया पप्पू पटेल नियमों को ताक में रख कर सरकारी जमीन को जख्म देने में लगे हुए है। उस जख्म में मरहम लगाने वाले जख्म देने वालों के साथ खड़े है। वहीं शासन-प्रशासन मिट्टी खनन माफियाओं के आगे नतमस्तक दिखता नजर आ रहा है।

 

 

फिलहाल फतेहपुर जिले का खनन के मामले में चर्चित थाना चांदपुर व अमौली चौकी के अंतर्गत ग्राम अमौली में पुलिस के नाक के नीचे थाने व चौकी से महज कुछ दूरी पर बेखौफ ओवरलोड़ मिट्टी भरे ट्रेक्टर फर्राटे भरते नजर आते है। लेकिन चांदपुर थाने पुलिस की क्या मजाल जो ट्रैक्टरों की ओर आँख उठा कर भी देख सके। अतार्थ थाना इंचार्ज व अमौली चौकी इंचार्ज बने मूकदर्शक। थाने व चौकी को अपना सरकारी महल समझकर आराम फरमाते नजर आते है। वहीं आपको यह भी बता दें कि, यदि कोई जिले का उच्च अधिकारी ओवरलोड़ ट्रैक्टरों को पकड़ने के लिए आता है, तो थाना पर डयूटी में तैनात खाकी के लाल मिट्टी खनन माफियाओं को सूचना देकर ओवरलोड़ ट्रैक्टरों के पहिये रास्ते में रुकवा देते है। लोकेशन मिलने पर पुनः ओवरलोड़ ट्रेक्टर दौड़ा दिए जाते है। फिलहाल बिंदकी एसडीएम हरिराम सिंह, जिलाधिकारी, लेखपाल व कानूनगो के आशीर्वाद से मिट्टी खनन का ये धंधा फल-फूल रहा है।

 

 

बता दें कि, ओवरलोड़ ट्रैक्टरों के निकलने से गाँव के लोग काफी परेशान है। क्योकि, एक घर एक किसान की व्यथा की कथा नही है। पूरा गांव आज इसी नासूर से पीड़ित है। वहीं गाँव के लोग कई बार आलाधिकारियों से शिकायत कर चुके है, लेकिन कोई सुनने को तैयार नही, विरोध के नाम पर आवाज ज्यादा बुलंद नही कर सकते है। क्योंकि दबंग पप्पू पटेल की फौज चमड़ी उधेड़ने को तैयार है, फिलहाल जिले के बड़े वाले साहेब मिट्टी खनन माफियाओं के आगे आपकी सेना नतमस्तक है। बस यही आपकी सबसे बड़ी उपलब्धि है।

 

 

अब देखने वाली बात तो ये है कि, क्या चांदपुर थाना इंचार्ज व अमौली चौकी इंचार्ज अंधेरी रात में फर्राटे भर रहे है। ट्रैक्टरों से हो रहे अवैध मिट्टी खनन माफियाओं पर क्या कुछ कार्यवाही करते है? या फिर पुलिस व मिट्टी खनन माफिया पप्पू पटेल के बीच ये खेल ऐसे ही चलता रहेगा ये तो आगामी समय ही तय करेगा। माननीय मुख्यमंत्री महोदय उत्तर प्रदेश के मुखिया श्री आदित्य योगी नाथ जी फतेहपुर जिले का हाल बद से बत्तर हो हो गया है, एक नजर इधर भी डालने की कृपा करें, भूमाफियाओं ने जनता की नाक में दम कर रखा है।