Breaking: विकास कार्यों में बड़ा घोटाला, जांच के नाम पर लीपापोती

विकास कार्यों में बड़ा घोटाला, जांच के नाम पर लीपापोती

 

– ग्रामीणों ने अधिकारियों से की शिकायत तो जांच के नाम पर बार-बार लीपापोती….

कौशांबी। चरवा क्षेत्र के ग्राम पंचायत बली पुर टाटा में विकास कार्यों के लिए मिलने वाली सरकारी रकम पंचायत के जिम्मेदारों की कमाई का साधन बनकर रह गई है। नाली, खड़ंजा, शौचालय, आवास, हैंड पंम्प, सहित विभिन्न योजनाओं में मिली लाखों की रकम में कमीशन खोरी कर योजना को जिम्मेदारों ने पलीता लगाया है।

 

 

ग्राम पंचायत बली पुर टाटा के कई ग्रामीणों ने भ्रस्ट ग्राम प्रधान के इस कृत्य की शिकायत भी खंड विकास अधिकारी से लेकर जिला स्तर तक की है। लेकिन जांच के नाम पर बार-बार ग्राम प्रधान की भ्रष्टाचारी पर पर्दा डालकर उसे बचाने का प्रयास जिम्मेदारों द्वारा किया जा रहा है। जिससे ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है।

Advertisements

 

 

पाठको को बता दें कि, ग्राम पंचायत बली पुर टाटा में प्रधानमंत्री आवास योजना में भी पात्रों को आवास देने के मामले में बनाई जाने वाली सूची में कई अपात्रों का नाम शामिल कर उन्हें आवास योजना का लाभ ग्राम पंचायत के जिम्मेदारों ने पहुंचाया है।

 

 

जो एक बड़ा सवाल है, और ग्राम पंचायत बली पुर टाटा पंचायत में हुए सरकारी रकम की बंदरबांट में यदि आला अधिकारियों ने जांच कराई तो इस ग्राम पंचायत में बड़ा घोटाला उजागर होगा। ग्राम प्रधान और ग्राम विकास अधिकारी पर आला अधिकारियों की गाज गिरनी तय है। लेकिन क्या भ्रष्ट प्रधान के कारनामों पर उच्च स्तरीय निष्पक्ष जांच हो पाएगी? यह व्यवस्था पर बड़ा सवाल है।