खुलासा: बिल पास करने के एवज में 10 प्रतिशत कमीशन लेने वाला अधिकारी रंगे हाथ गिरफ्तार

बिल पास करने के एवज में 10 प्रतिशत कमीशन लेने वाला अधिकारी रंगे हाथ गिरफ्तार

 

– एंटी करप्शन ब्यूरो ने सेट किया ट्रैप, एक लाख की बरामदगी….

जोधपुर। एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) जोधपुर ने सीपीडब्ल्यूडी के अधिकारी को एक लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। अधिकारी जोधपुर के आईआईटी हॉर्टिकल्चर में तैनात था। बताया जा रहा है कि, आरोपी ने यह रिश्वत राशि बिल पास करने के एवज में 10 प्रतिशत कमीशन के रूप में ली थी। फिलहाल एसीबी आरोपी से मामले में पूछताछ कर रही है।

 

-मामला विस्तार….

जानकारी से ज्ञात हुआ कि, आरोपी का नाम ललित देवड़ा है। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो जोधपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरेंद्र सिंह चौधरी ने बताया कि, परिवादी ललित देवड़ा स्वास्तिक नर्सरी का संचालन करते हैं। उन्होंने यह भी बताया कि, आईआईटी जोधपुर में हॉर्टिकल्चर और लैंडस्कैपिंग का करीब 80 लाख रुपये का काम चल रहा है। जिसमें 34 लाख के बिल पास किए गए।

Advertisements

 

 

– पूछताछ में हुआ खुलासा….

बताते चलें कि, हॉर्टिकल्चर और लैंडस्कैपिंग के बिल पास कराने को लेकर करीब 3 लाख 40 हजार रुपये कमीशन के रूप में रिश्वत की मांग की थी। पूछताछ में परिवादी ने बताया कि, 20 लाख रुपये की राशि उसके खाते में जमा हो चुकी है। और शेष राशि का भुगतान अभी बाकी था। वहीं आईआईटी में तैनात एडी हॉर्टिकल्चर प्रदीप कुमार ने इन बिलों को पास कराने के लिए 10 प्रतिशत राशि कमीशन के रूप में मांग की।

 

 

आरोपी परिवादी ने बताया कि, प्रदीप और उसके बीच में 2 लाख में सौदा तय हुआ था। इसमें उसने प्रदीप को एक लाख लेने के लिए राजी कर लिया, जिसको लेकर सुबह 50 हजार की पहली किस्त के रूप में दिया। इस पर एंटी करप्शन ब्यूरो ने सत्यापन करवाने के बाद शाम को ट्रैप सेट किया और 50 हजार की दूसरी किस्त को लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। साथ ही कब्जे से रिश्वत की एक लाख की राशि भी बरामद की है। फिलहाल एसीबी मामले की जांच में जुटी हुई है।