राजधानी में जहरीली शराब से हुई मौतों पर सीएम ने जताया शोक, कोतवाल सहित 4 कर्मी निलंबित

राजधानी में जहरीली शराब से हुई मौतों पर सीएम ने जताया शोक, कोतवाल सहित 4 कर्मी निलंबित

 

देहरादून। राजधानी देहरादून में नेशविला रोड स्थित पथरिया पीर चौक के नज़दीक एक बस्ती में रहने वाले 6 लोगो की जहरीली शराब पीने से मौत हो गई और 4 लोगो की हालात फिलहाल नाजुक बनी हुई है। मामले की जानकारी मिलने के बाद ही प्रशासन में हड़कंप मच गया है। क्योंकि, शराब पीने से मौत हुई है तो यह एक बड़ा मामला जरूर बन जाता है कि, आखिर एक तरफ तो एसएसपी देहरादून में नशाखोरी के खिलाफ आए दिन अभियान चला रहे हैं, और शहर के व्यस्ततम इलाके नेशविला रोड पर शराब पीने से 6 लोगों की मौत हो जाती है। यह अपने आप में एक बड़ा सवाल खड़ा करता है कि, आखिर आबकारी विभाग क्या कर रहा है?

 

 

जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि, 6 लोगों की मौत कच्ची शराब पीने की वजह से हुई है। बहरहाल यह जांच का विषय है, लेकिन अगर कच्ची शराब के सेवन से इनकी मौत हुई है तो यह निश्चित तौर पर एक बड़ा सवाल है, कि आखिर मसूरी क्षेत्र के विधायक गणेश जोशी के घर से मात्र 50 कदम की दूरी पर स्थित बस्ती में रहने वाले लोगों की शराब पीने से मौत हो जाती है। सूत्रों की माने तो बस्ती के अंदर ही कच्ची शराब का धंधा भी चल रहा है।

 

 

बताते चलें कि, कोतवाली नगर क्षेत्र में कथित रूप से जहरीली शराब के सेवन से 06 व्यक्तियों की मौत हो गई है। 6 लोगो की मौत के बाद प्रशासन गहन निंद्रा से जागा है। पुलिस अधीक्षक सहित चार पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया तो वहीं परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। पूरे मामले में डीएम को मजिस्ट्रियल जांच के आदेश भी दिए गए हैं।

Advertisements

जानकारी से ज्ञात हुआ कि, नशविला रोड के नजदीक चुकखु मौहल्ले में एक लंबे समय से अवैध रूप से शराब बेची जाती रही हैं। जिस पर दो-तीन बार कार्यवाही भी हो चुकी है। जहां आबकारी की टीम ने बड़ी मात्रा में लाखों की शराब बरामद की थी। लेकिन उसके बावजूद भी अवैध शराब के कारोबार में रोक नहीं लगी। इस मामले में कोई प्रभावी कार्रवाई न किए जाने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा निरीक्षक शिशुपाल सिंह नेगी, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर तथा उप निरीक्षक कुलवंत सिंह, धारा चौकी प्रभारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है।

 

 

जहरीली शराब से हुई 6 मौतों पर सूबे के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने जन हानि पर दुःख प्रकट किया। सीएम रावत ने इस प्रकरण को काफी गम्भीर से बताते हुए कहा कि, दोषियों को कङी से कङी सजा दिलाना सुनिश्चित किया जाएगा। सीएम ने जल्द से जल्द मजिस्ट्रियल जॉच कराने के भी निर्देश दिये हैं। उन्होंने मुख्य सचिव, डीजीपी व आबकारी आयुक्त को इस मामले में दोषी पाये जाने वालों पर शीघ्र कारवाई करने के निर्देश दिये। साथ ही सीएम त्रिवेन्द्र ने महानिदेशक स्वास्थ्य व सीएमओ देहरादून को चिकित्सालयों में भर्ती लोगों को उचित चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिये हैं।