आखिर स्वयं व अपने कुटुम्ब के दलाली/स्टिंग मामले में सीएम कब करेंगे कार्यवाही

आखिर स्वयं व अपने कुटुम्ब के दलाली/स्टिंग मामले में सीएम कब करेंगे कार्यवाही

– सीरियल अटैक की चैथी कड़ी में स्वयं मुख्यमन्त्री के झारखण्ड दलाली प्रकरण की जाँच कब: मोर्चा

- परिजनों/रिश्तेदारों के खातों में हुआ था दलाली का पैसा ट्रांसफर…

देहरादून। जनसंघर्ष मोर्चा के अध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने सीरियल अटैक की चौथी कड़ी में आज फिर एक बयान जारी कर कहा कि, मुख्यमन्त्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के बयान ‘‘भ्रष्टाचार है तो तुरन्त बतायें’’ की कड़ी में मोर्चा द्वारा सीरियल अटैक किये जाने की घोषणा की गई थी।

 

- गौसेवा आयोग अध्यक्ष बनाने की एवज में 25 लाख का था मामला….

 

बताते चलें कि, उक्त मामले में चौथा अटैक करते हुए मोर्चा अध्यक्ष नेगी ने कहा कि, मुख्यमन्त्री त्रिवेन्द्र रावत द्वारा झारखण्ड प्रदेश प्रभारी रहते हुए एक भाजपा कार्यकर्ता को गौसेवा आयोग का अध्यक्ष बनवाए जाने की एवज में 25 लाख रूपया लगभग बाकायदा परिजनों एवं रिश्तेदारों के खातों में ट्रांस्फर हुआ था। जिसकी पुष्टि सीएम रावत के सोशल मीडिया एकाउण्ट से हुई थी।

Advertisements

 

रघुनाथ नेगी ने यह भी कहा कि, उक्त मामले को लेकर एक समाचार चैनल के सी0ई0ओ0 द्वारा सार्वजनिक तौर पर सोशल मीडिया में प्रसारित/प्रचारित किये गये तथा इनके कुटुम्ब से जुडे अवैध डील/दलाली के स्टिंग वीड़ियो भी देश भर में प्रसारित किये गये। जिससे प्रदेश की छवि को खासा धब्बा लगा।

 

– अपर पुलिस महानिदेशक से की गयी थी मोर्चा द्वारा जाँच की माँग….

 

मोर्चा द्वारा दिनांक- 05/02/19 को उक्त स्टिंग वीड़ियो एवं मुख्यमन्त्री द्वारा की गयी भाजपा कार्यकर्ता से दलाली के मामले में कार्यवाही को लेकर अपर पुलिस महानिदेशक, लाॅ एण्ड ऑर्डर को भी ज्ञापन सौंपा गया था।

 

- कुटुम्ब के रिश्वत/डील मामलों के स्टिंग ने प्रदेश को किया था शर्मशार….

लेकिन दबाव के कारण आज तक मामले में कोई कार्यवाही नहीं हुई। मोर्चा सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत से माँग करता है कि, वे स्वयं व अपने कुटुम्ब के दलाली/स्टिंग मामले में कब कार्यवाही करेंगे।