Breaking: ग्राम पंचायत फुवॉण में SC अनुसूचित जाति सीट होने पर मचा बबाल

ग्राम पंचायत फुवॉण में SC अनुसूचित जाति सीट होने पर मचा बबाल

 

देहरादून। आगामी पंचायत चुनाव के लिए एक ओर जहाँ नए पंचायती राज्य एक्ट दो बच्चो व निर्धारित शिक्षा को लेकर प्रत्याशी परेशान है, वहीं ग्राम पंचायत फुवॉण गांव में प्रधानपद के लिए SC अनुसूचित जाति की सीट आरक्षित किए जाने पर बवाल मचा हुआ है। साथ ही ग्रामीणों में खासा आक्रोश भी है।

 

 

बताते चलें कि, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष व वर्तमान में जान्दणु वार्ड से क्षेत्र पंचायत सदस्य के उम्मीदवार प्रत्याशी राजमोहन सिंह रावत ने ब्राइट पोस्ट को बताया कि, ग्राम फुवॉण गॉव पहले ग्राम पंचायत जान्दणु में आता था। जिसे गत वर्ष अलग कर ग्राम पंचायत फुवॉण गॉव किया गया है। पूरी ग्राम सभा में मात्र एक ही ऐसा परिवार SC अनुसूचित जाति का है, तथा संपूर्ण आबादी (OBC) पिछड़ा वर्ग का है।

 

 

गौरतालब है कि, ग्राम पंचायत फुवॉण प्रधानपद के लिए SC अनुसूचित जाती के लिए आरक्षित है। राजमोहन रावत का यह भी कहना है कि, आखिरकार सरकार ने ऐसे किस आंकड़ों के तहत ग्राम पंचायत फुवॉण गॉव में SC अनुसूचित जाति की सीट आरक्षित की है। यदि सरकार ने SC सीट आरक्षित कर भी दी, तो आपत्ति लगाए जाने पर इसको परिवर्तन कर (OBC) अन्य पिछड़ा वर्ग का पुरुष या महिला क्यों नहीं किया गया?

Advertisements

 

हैरानी की बात है कि, वर्तमान में पंचायती राज एक्ट के अनुसार वह परीवार एक भी नियम को पूरा नहीं कर पा रहा है, उस परिवार के दो से अधिक बच्चे है। तथा आठवीं पास भी नहीं है, तो ऐसी स्थिति में ग्राम प्रधान के लिए किसे प्रधान चुना जाए? प्रधानपद के उम्मीदवार प्रत्याशियों ने 28 अगस्त को आपत्ति लगाने के बाद भी सीट परिवर्तन नहीं हुई है। जिसके कारण ग्रामीणों में खासा आक्रोश उत्पन्न है।

 

 

यदि शीघ्र ही इस सीट को (OBC) अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए महिला या पुरुष नहीं किया जाता है, तो समस्त ग्रामवासियों के द्वारा सरकार के खिलाफ उग्र आंदोलन किया जाएगा।