उत्तरकाशी के सुदूरवर्ती ब्लॉक मोरी में गाड़ियां व लोगों के बहने की सूचना

उत्तरकाशी के सुदूरवर्ती ब्लॉक मोरी में गाड़ियां व लोगों के बहने की सूचना

देहरादून। उत्तरकाशी के सुदूरवर्ती ब्लॉक मोरी में कल रात भारी बारिश के चलते गाढ-गधेरें उफान पर हैं। भारी वर्षा के चलते प्रभावित क्षेत्र माकुड़ी, टिकोची, आराकोट है ।

 

बता दें कि, मोरी इलाके के आराकोट में 3 व्यक्ति व एक मकान के बहने की सूचना प्राप्त हुई है। टिकोची में 4-5 लोगों के संग कुछ गाड़ियों के बहने की सूचना प्राप्त हुई है।

 

Advertisements

माकुड़ी में 2 लोग लापता हैं। मार्ग बहुत जगह से क्षतिग्रस्त और बंद है। उक्त सूचना के संबंध में स्थानीय निवासी प्रवीण रावत द्वारा बताया गया कि, टिकोची में 10-15 मकानों के बहने की सूचना है। फिलहाल कोई जनहानि नहीं है, माकुड़ी में एक मकान दबा है व 02 व्यक्ति लापता हैं। वहीं घाटी के आराकोट में 7-8 मकान संग 03 लोग बह चुके है।

 

मोरी के ग्राम पंचायत-मौण्डा खकवाड़ी व ग्राम-चिवां ग्राम, गोकुल ग्राम माकुड़ी में 5 से 7 लोगों के मलवे में दबने की ख़बर भी हैं, फिलहाल कुछ व्यक्तियों का पता नही चल पा रहा है। टिकोची बाजार में बादल फटने से पूरा बाजार टिकोची भूस्खलन की चपेट में आ गया और वहां पर खड़ी गाड़ियां भी पानी में बह गई। जिले मे पिछले 48 घंटों से रूक-रूक कर हो रही झमाझम बारिश से मोरी के आराकोट, डगोली, माकुड़ी गांव में गधेरें उफान पर हैं। वहीं बारिश के चलते ग्राम से जिला मुख्यालय का भी संपर्क टूटा चुका हैं। बरसाती नाले में भारी उफान आने के बाद कई घरों पर खतरा मंडराने लगा है। वहीं सेब के बागीचों को भी भारी नुकसान पहुंचने की खबर हैं।

 

लोगों ने उफान को देखते हुए अपने घरों को छोड़कर सुरक्षित जगहों पर शरण ली है। इधर जिलाधिकारी डॉ आशीष चौहान ने अधिकारियों की आपात बैठक ली। मोरी क्षेत्र मे हुई तबाही से निपटने के लिये एसडीआरएफ, राजस्व टीम मौके पर पहुंच गई। स्थानीय लोगों के खेत पूरी तरह बर्बाद हो गए हैं। इधर, त्यूणी बाजार में भारी उफाने के कारण नदी का जलस्तर काफी बढ़ चुका है, जिससे बाजार को खतरा है।

 

हिमाचल में भारी बारिश के कारण हिमाचल से लगे क्षेत्रों की नदियों और नालों का जलस्तर काफी बढ़ गया है, जिससे लोग दहशत में हैं। जिला मुख्यालय में बारिश से भारी भूस्खलन हो रहा है, हालात इस कदर हैं कि, गंगोत्री राज मार्ग बडेथी, व मनेरा से बंद होने के चलते उत्तरकाशी से संपर्क टूट चुका है, गंगोत्री- यमुनोत्री राजमार्ग पूरी तरह से बंद पडे हैं। दोनों तरफ से दर्जनों गाड़ियां फंसी हुई है। हिमाचल प्रदेश से उत्तराखंड के अधिकारियों ने बात की लेकिन माकुड़ी गांव को जिले से जोड़ने वाले पुल पर आवाजाही रुक गई। आपदा प्रबंधन सचिव एसए मुरुगेशन ने उत्तरकाशी, चमोली के हालात पर फ़िलहाल मोर्चा संभाला।