मासूम बच्ची के अंतिम संस्कार पर कांग्रेस ने सेंकी राजनीतिक रोटियां

मासूम बच्ची के अंतिम संस्कार पर कांग्रेस ने सेंकी राजनीतिक रोटियां

देहरादून। कोटद्वार में 10 वर्षीय बालिका की बलात्कार कर हत्या करने वाले मामले में जहां पूरा प्रदेश उस मासूम के साथ हुए अत्याचार को महसूस कर दुःखद है, वहीं अब काँग्रेस के कुछ कार्यकर्ता अपनी राजनीतिक रोटियां सेकने में मशगूल है। एक तरफ पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए बलात्कार के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के नेता सुरेंद्र सिंह नेगी अपनी राजनीतिक रोटियां सेकने के लिए तहसील परिसर में दरी बिछाए बैठे हैं। जबकी कल मृतक बालिका का अंतिम संस्कार किया जा रहा था। उस समय न्याय दिलाने के नाम पर तहसील परिसर में राजनीतिक रोटियां सेंकी जा रही थी।

 

सामाजिक और राजनीतिक दल के कार्यकर्ताओं ने बालिका के अंतिम संस्कार में शामिल होने तक की जहमत नहीं की।इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि, बालिका को न्याय दिलाने के नाम पर अपनी राजनीति की दुकान चमकाने वाले इन छुटभैय्या नेताओं और कार्यकर्ताओं के मन में इस घटना के प्रति कितनी संवेदनाएं हैं।

Advertisements

 

आपको बता दें कि, कल दूसरे दिन भी पूर्व काबीना मंत्री और उनके कांग्रेस के छुटभैय्या कार्यकर्ता तहसील परिसर में दरी बिछाए बैठे है। उनके अनुसार उन्हें लगता है कि, धरना देकर के उस मासूम बच्ची को वह न्याय दिला पाएंगे। उस मासूम बच्ची को न्याय तो तब मिलेगा जब यह छुटभैय्या अपनी राजनीतिक दुकान चमकाने से बाज आएंगे।