पुलिस के साथ मारपीट और छेड़खानी के आरोप में महिला समेत चार गिरफ्तार

628

पुलिस के साथ मारपीट और छेड़खानी के आरोप में महिला समेत चार गिरफ्तार

दिनेशपुर। गत दिवस रुद्रपुर में सेल्समैन से हुई 11 लाख रुपए की लूट की घटना के खुलासे में लगी एसओजी टीम ने पुख्ता जानकारी के आधार पर शनिवार देर रात थाना क्षेत्र के गांव में एक व्यक्ति के घर में दबिश दी।

आरोप है कि, परिजनों ने ग्रामीणों के साथ एसओजी टीम पर हमला बोल दिया और उनके साथ हाथापाई की। आरोप है कि, ग्रामीणों ने एक एसओजी कर्मी से उसका रिवाल्वर भी छीनने का प्रयास किया, इस दौरान टीम में शामिल एक महिला कांस्टेबल और एसओजी के एक एसआई को चोटें आई।

यह भी आरोप है कि, महिला कांस्टेबल के साथ छेड़खानी भी की गई। सूचना पर थानाध्यक्ष अशोक कुमार पुलिस के साथ तत्काल मौके पर पहुंचे, जिसे देख ग्रामीण मौके से भाग गए। पुलिस ने मारपीट में शामिल एक महिला समेत चार लोगों को हिरासत में ले लिया है।

सूचना पर एसपी सिटी ममता बोहरा सीओ आशीष भारद्वाज रात को ही थाने में पहुंच गए। देर रात को एसओजी की तहरीर पर पुलिस ने दो महिला समेत 10 लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया।

एसपी सिटी ममता बोहरा ने बताया कि, बीते दिवस रुद्रपुर में बदमाशों ने हथियारों के बल पर एक कंपनी के सेल्समैन से 11 लाख रुपए की नकदी लूट ली थी। पुलिस ने घटना के खुलासे को पुलिस की कई टीम के साथ एसओजी टीम को भी लगाया था।

उन्होंने बताया कि, जांच के दौरान जब सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए तो लूट में शामिल बदमाशों की अंतिम लोकेशन दिनेशपुर क्षेत्र में पाई गई। जिसके बाद से पिछले एक महीने से एसओजी की टीम दिनेशपुर क्षेत्र में डेरा डाले हुए थी।

क्षेत्र के एक व्यक्ति के घटना में शामिल होने और घटना में प्रयुक्त असला और नगदी मौजूद होने की पुख्ता जानकारी होने पर शनिवार की रात को एसआई सुरेंद्र प्रताप के नेतृत्व में एसओजी की टीम ने जगदीशपुर निवासी निरंजन मंडल के घर पर दबिश दी।

बताया कि, एसओजी की टीम ने निरंजन को घर से बाहर आने के कहा और अपना परिचय पत्र दिखाया। जिसे देख निरंजन घर के अंदर चला गया और खिड़की तोड़कर पीछे से भाग निकला। एसपी सिटी के अनुसार इस बीच निरंजन की पत्नी चंपा ने शोर मचा कर ग्रामीणों को इकट्ठा कर लिया। जिसके बाद ग्रामीणों ने एसओजी टीम को घेर लिया।

आरोप है कि, इस दौरान ग्रामीणों व निरंजन के परिजनों ने टीम के साथ हाथापाई की और महिला कांस्टेबल के साथ छेड़खानी भी की। इस बीच सूचना मिलने पर पास ही के क्षेत्र में गश्त कर रहे थानाध्यक्ष अशोक कुमार पुलिस कर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस को देख सभी ग्रामीण मौके से भाग निकले।

एसपी सिटी ने बताया कि, हाथापाई के दौरान एएसआई सुरेंद्र प्रताप सिंह और महिला कांस्टेबल को चोटे आई। जिनका मेडिकल कराया गया है। उन्होंने कहा कि, फिलहाल निरंजन की पत्नी पुत्र सहित दो और अन्य ग्रामीण को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

उधर देर रात को एसओजी की नामजद तहरीर पर पुलिस ने निरंजन पुत्र मानिक, महानंद पुत्र बंकिम, राकेश अधिकारी पुत्र कालीपद, मनोज अधिकारी पुत्र मुकंद, राजेश अधिकारी पुत्र सुरंजन, रामेश्वर पुत्र निरंजन,चंपा पत्नी निरंजन, सुभाष पुत्र मानिक, सुमित पुत्र भागीरथ,रानी पत्नी मुकंद के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 186, 341, 353,332, 354ए के तहत केस दर्ज कर लिया।

Previous articleकांग्रेस नेता समेत पांच पर मुकदमा दर्ज
Next articleबड़ी खबर: कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए विधायक राजकुमार