बड़ी खबर: महापौर का आरोप। राज्य वित्त आयोग के बजट में निगम के साथ हुआ सौतेला व्यवहार

महापौर का आरोप। राज्य वित्त आयोग के बजट में निगम के साथ हुआ सौतेला व्यवहार

– मुख्यमंत्री ने दिया न्यायोचित हक का आश्वासन, महापौर ने जताया आभार

ऋषिकेश। राज्य वित्त आयोग के बजट में ऋषिकेश नगर निगम के साथ हुए सौतेले व्यवहार के बाद निगम पार्षदों के बड़ते आक्रोश को देखते हुए महापौर अनिता ममगाई ने प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात की। इस दौरान महापौर ने त्रैमासिक बजट के सम्पूर्ण विषय की विस्तृत जानकारी दी।

मंगलवार की शांम सीएम से महापौर ने मुलाकात की। महापौर ने उन्हें अवगत कराया कि, राज्य वित्त आयोग के बजट में जिस प्रकार ऋषिकेश नगर निगम की घोर उपेक्षा की गई है, उससे निगम बोर्ड के तमाम सदस्यों, अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ पूरे शहर की जनता स्वयं को ठगा हुआ महसूस कर रही है।

Advertisements

हेरत की बात यह भी है कि, छोटे-छोटे निकायों तक का बजट कही दुगना तो कहीं चौगुना किया गया है। ऋषिकेश का बजट ना बड़ाये जाने से विकास कार्य प्रभावित होने के साथ शहर में तमाम व्यवसथाओ का पटरी से उतरने का संकट भी खड़ा हो गया है।

महापौर की तमाम बातें गौर से सुनने के बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए मुख्यमंत्री ने तत्काल अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने महापौर को आश्वस्त किया कि, ऋषिकेश अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त धार्मिक एवं पर्यटन नगरी के साथ विश्व प्रसिद्ध चारधाम का मुख्य द्वार भी है।

ऋषिकेश नगर निगम के हितों का पूरा ख्याल रखा जायेगा। जल्द ही उन्होंने वित्त एवं शहरी विकास मंत्री एवं नगर निगम पार्षदों के साथ बैठक करने की भी बात कही, जिस पर नगर निगम महापौर ने मुख्यमंत्री का आभार जताया।