दुःखद: यहां बाघ ने ग्रामीण को बनाया निवाला। मौके पर मौत

 यहां बाघ ने ग्रामीण को बनाया निवाला। मौके पर मौत

खटीमा। सीमांत गांव झाऊपरसा सुरई वन रेंज में एक 52 वर्षीय व्यक्ति पर बाघ ने हमला करके मौत के घाट उतार दिया। वही व्यक्ति का शव झाड़ियों में क्षत-विक्षत हालत में मिला, जिसके बाद गांव में भय का माहौल हो गया।

जानकारी के मुताबिक, खटीमा में शारदा सागर डैम के किनारे स्थित एक गांव झाऊपरसा निवासी रोहित रोजाना की तरह दिन में जानवरों का चारा लेने घर से थोड़ी दूर गया था, तभी वहां पहले से ही घात लगाए बाघ ने उस पर हमला कर दिया और इस हमले में रोहित की मौत हो गई।

जब रोहित काफी देर तक घर नहीं पहुंचा तो परिजनों को चिंता होने लगी और परिजनों व ग्रामीणों ने जब रोहित की खोजबीन की तो घर से थोड़ी दूर शारदा सागर डैम की झाड़ियों में रोहित के शव के पास बाघ को देखा गया।

Advertisements

वहीं, बाघ देखते ही ग्रामीणों में अफरा-तफरी मच गई। जिसके बाद ग्रामीणों ने तत्काल इसकी सूचना वन विभाग को दी और मौके पर पहुंचे वन कर्मचारियों ने बाघ को भगाकर मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए उप जिला चिकित्सालय खटीमा भेजा गया।

वन क्षेत्राधिकारी सुरई वन रेंज सुधीर कुमार ने बताया कि, झाऊपरसा गांव का 52 वर्षीय रोहित घास काटने गया था। जिसकी बाघ के हमले में मृत्यु हो गई है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु राजकीय उप जिला चिकित्सालय खटीमा भेज दिया गया है।

पीड़ित परिवार के मुआवजे के लिए जल्द कार्रवाई की जा रही है। वन विभाग द्वारा बाघ के मूवमेंट पर लगातार निगरानी रखी जा रही है।