Exclusive: मेयर गामा द्वारा मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया गया 51 लाख का चेक महज एक दिखावा

मेयर गामा द्वारा मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया गया 51 लाख का चेक महज एक दिखावा

– निगम फंड का खर्च जनता के समक्ष रखें मेयर

देहरादून। राजधानी के मेयर सुनील उनियाल गामा द्वारा नगर निगम की ओर से 51 लाख रुपए का चेक मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया जाना महज एक दिखावा है। आज उत्तराखंड आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता ने अपना एक बयान जारी करते हुए कहा। अपनी बात की आगे रखते हुए रविन्द्र ने कहा कि, यदि नगर निगम फंड में इतनी अधिक मात्रा में रुपये है, तो कुछ दिन पूर्व नगर निगम द्वारा आपदा राहत कोष से पहले तो 3 करोड़ रुपए की मांग की गई, परंतु जब 3 करोड रुपए की मांग पर जिला प्रशासन ने सवाल उठाए तो नगर निगम ने एक करोड रूपया मांग लिया गया।

Advertisements
रविन्द्र सिंह आनंद, प्रवक्ता, आम आदमी पार्टी उत्तराखंड
           रविन्द्र सिंह आनंद, प्रवक्ता, आम आदमी पार्टी उत्तराखंड

यह दोनों ही बातें विरोधाभासी है। रविन्द्र ने कहा कि, इसके पीछे नगर निगम की जरूर कुछ मंशा है। क्या है यह फिलहाल कहा नहीं जा सकता। इस बात पर जिला प्रशासन भी सवाल उठा चुका है। सूत्रों का कहना है कि, कोरोना के चलते सरकारी धन को ठिकाने लगाने का काम किया जा रहा है।

दूसरी ओर नगर निगम द्वारा मांगे गए एक करोड़ रुपयों से सभी वार्डों, सड़कों, सरकारी और निजी दफ्तरों में सैनिटाइजेशन का जिक्र किया गया था, परंतु नगर निगम द्वारा सैनिटाइजेशन का कार्य आज तक भी पूरा नहीं हुआ है। नगर निगम द्वारा बहुत ही सूक्ष्म तरीके से इस कार्य को किया गया। रविन्द्र ने कहा कि ज़ मेयर गामा नगर निगम के फंड का खर्च सभी पार्षदों के साथ आम जनता के सामने पारदर्शिता से रखें