Breaking: महाविद्यालय प्रबन्धन की धोखाधड़ी

महाविद्यालय प्रबन्धन की धोखाधड़ी

 

रिपोर्ट- महेंद्र सिंह
उत्तर प्रदेश। जनपद जालौन के महाविद्यालयों की धांधली बंद होने का नाम नहीं ले रही है। मामला जनपद जालौन के गोहन थाना क्षेत्र के पण्डित केशव देव महाविद्यालय गोहन का है। जहां पर छात्रों ने यूनिवर्सिटी फीस ऑफलाइन के द्वारा स्कूल प्रबंधन में जमा कराई थी। जब स्कूल प्रबंधन से छात्र अपना प्रवेश पत्र लेने गए तो उन्होंने कहा कि, इस लिस्ट में तुम्हारा नाम नहीं है। सभी छात्र-छात्राएं स्नातक और परास्नातक की परीक्षाएं 5 मार्च से देने की तैयारी में लगे थे। इतना सुनते ही छात्रों के पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई और आंसू आने लगे।

बता दें कि, सभी छात्र वा छात्राएं उरई नगर मजिस्ट्रेट सत्येंद्र सिंह से अपनी शिकायत लेकर पहुंचे तो नगर मजिस्ट्रेट ने कहा कि, आपकी समस्याओं को जिलाधिकारी महोदय को बताएंगे। लेकिन छात्रों को कोई पुख्ता आश्वासन नहीं दिया गया। महाविद्यालय प्रबंधन ने अपने जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ लिया है। महाविद्यालय परीक्षा से वंचित अंदेशे से घबराए छात्र-छात्राओं ने जिला प्रशासन से हस्तक्षेप की गुहार लगाई है।

Advertisements

छात्र-छात्राओं ने कहा यदि उन्हें परीक्षा से वंचित रखा गया तो वह आत्महत्या कर लेंगे। क्योंकि हमारे मां-बाप मेहनत मजदूरी करके यह पैसा जमा किए थे। लेकिन दोबारा यूनिवर्सिटी फीस देने में सक्षम नहीं है। महाविद्यालय से परीक्षा में वंचित रहने की छात्रों की संख्या करीब 130 है। अब देखना यह है कि, कौन अधिकारी इन छात्रों को न्याय दिलाता है। या फिर इन छात्रों का भविष्य भी अंधकार में चला जाएगा।