देहरादून के कारोबारियों के यहां पड़े छापे, पकड़ी गई करोडों की चोरी

देहरादून के कारोबारियों के यहां पड़े छापे, पकड़ी गई करोडों की चोरी

 

देहरादून। राज्य कर विभाग के ज्वाइंट कमिश्नर अरुण कुमार के निर्देश पर बृहस्पतिवार को स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने टूर एंड ट्रैवल्स और सिक्योरिटी सर्विसेज में काम करने वाले कारोबारियों के यहां छापा मारा। रेसकोर्स, इंदिरा नगर और सुभाष नगर क्षेत्र में की गई कार्रवाई में एसटीएफ ने कई कारोबारियों के कारोबार से संबंधित दस्तावेज जब्त किए। साथ ही प्रारंभिक जांच में पाया कि, कारोबारियों ने दस करोड़ के कारोबार पर जीएसटी जमा नहीं की।

 

जिस पर करीब एक करोड़ का टैक्स बनता है। कार्रवाई के दौरान ही कारोबारियों ने चार लाख की राशि जमा कराई। तो विभाग की ओर से शेष राशि दो सप्ताह में जमा करने के निर्देश दिए गए है।देहरादून में कई कारोबारी नियमानुसार टैक्स जमा नहीं कराते हैं। विभाग की जांच में यह खुलासा हुआ कि, कारोबारी जीएसटी में पंजीकरण नहीं करते हैं या कुछ समय के बाद पंजीकरण को निरस्त करा लेेते हैं।

Advertisements

 

निरस्त हो चुके पंजीकरण नंबर का उपयोग कारोबार के लिए करते हैं। राज्य कर के डिप्टी कमिश्नर यशपाल सिंह ने बताया कि, निरस्त हो चुके जीएसटी पंजीकरण का इस्तेमाल करने वाले व्यापारियों पर जुर्माना व गिरफ्तारी तक हो सकती है। ऐसे व्यापारियों की विभाग जांच कर रहा है। कार्रवाई में सहायक आयुक्त जयदीप रावत, वंदना नौटियाल, राज्य कर अधिकारी कबीर चौहान, पराक्रम प्रसाद, अंजू व सुनील रावत मौजूद थे।