सीएम योगी के आदेशों का पुलिस व अधिकारी उड़ा रहे मजाक

सीएम योगी के आदेशों का पुलिस व अधिकारी उड़ा रहे मजाक

 

– चायल तहसील और सदर तहसील क्षेत्र में हो रहा है बालू का अवैध खनन
– खनन माफिया शासन को रोज लगाते है लाखो रुपये का चूना
– अवैध खनन रोक पाने मे पिपरी पुलिस हुई नाकाम
– पिपरी थाना क्षेत्र के रसूलपुर बियूर घाट मे नाव के द्वारा सैदपुर, बिसौना, मदारीपुर, आदि घाटों पर जेसीबी द्वारा धड़ल्ले से हो रहा खनन

तिल्हापुर मोड। जहाँ एक ओर सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अवैध बालू खनन को रोकने के लिए पूरी तरह से कमर कस रहे हैं। वहीं पर उन्ही के पुलिस प्रशासन व खनन विभाग के आला अधिकारी सरकार के आंख में धूल झोंक कर अवैध बालू खनन करवाने में पीछे नहीं हट रहे हैं।

 

बताना जरूरी होगा कि, पिपरी थाना क्षेत्र के रसूलपुर बिउर गाँव के चर्चित देवनरा घाट में नाव द्वारा दिन रात बालू निकाला जा रहा है और सैदपुर, बिसौना, मदारीपुर, में जेसीबी द्वारा बालू निकाला जा रहा है। लेकिन उन बालू माफियाओं की अच्छी पकड़ होने के कारण इस अवैध बालू खनन को रोक पाने में पिपरी पुलिस व खनन विभाग विफल साबित हो रहा है। कहीं ऐसा तो नहीं कि इस अवैध खनन मे पिपरी पुलिस और खनन विभाग के अधिकारियों के संरक्षण में हो रहा हो बालू का अवैध खनन।

Advertisements

 

बता दें कि, पिपरी थाना क्षेत्र के लोधउर पुलिस चौकी रावतपुर पुलिस चौकी से महज कुछ किलोमीटर की दूरी पर है देवनरा घाट, सैदपुर, बिसौना, मदारीपुर घाट लेकिन चौकी के पुलिस को इस बात की जानकारी न? हो ऐसा नहीं है क्योंकि चौकी के क्षेत्र से फर्राटा मारते हुए गुजरते है बालू लदे वाहन।

 

जबकि ग्रामीणों ने इसकी सिकायत कई बार नीचे से लेकर ऊपर तक के अधिकारियों व पुलिस प्रसाशन से की। लेकिन उन अधिकारियों व पुलिस प्रसाशन को कोई फर्क तक नहीं पड़ा। ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया कि, उन बालू मफियाओं की पिपरी पुलिस से काफी अच्छे ताल मेल होने के कारण अवैध बालू खनन नहीं बन्द हो रहा है। अब इन अवैध खनन के सवालों के घेरे में खड़े है अधिकारी व पुलिस।