आखिर दोहरे हत्याकांड का मास्टर मांइड कौन

आखिर दोहरे हत्याकांड का मास्टर मांइड कौन

 

– मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के कोर्रो गांव में घटित हुयी थी घटना….

कौशाम्बी। मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के कोर्रो गांव में शनिवार की रात आशीष कुमार नाउ और उसकी प्रेमिका सुनीता की रहस्यमय तरीके में हत्या कर दी गयी है, और शनिवार की रात इस हत्या को करने के बाद रविवार के पूरे दिन दोनो लाश को ठिकाने लगाने का प्रयास हत्यारे कर रहे थे। लेकिन जब आशीष और उसकी प्रेमिका सुनीता को ग्रामीणो ने नही देखा तो गांव में खलबली मच गयी।

Advertisements

 

बता दें कि, हत्या के 24 घण्टे से अधिक बीत जाने के बाद पुलिस को यह कहानी बताकर लाश को पीएम के लिए भेजा गया है कि, पहले आशीष ने सुनीता की हत्या कर दी है और फिर उसने फासी लगा ली है। लेकिन फाँसी से किसने लाश उतारी इस बात की जिम्मेदारी लेने वाला पूरे गांव में कोई नही है। वही आशीष के अन्य परिजनो का बयान ही विरोधाभास है। जहां आशीष की भाभी का कहना है कि, दोनो की मौत की जानकारी उन्हे रविवार की सुबह 8 बजे हो गयी है, तो वही आशीष के छोटे भाई का कहना है कि दोनो की मौत रविवार की शाम पांच बजे हुयी है। जबकि, ग्रामीणो की माने तो दोनो की हत्या शनिवार की रात पहले पहर ही हो गयी है।

 

आशीष की पहली पत्नी आशीष को छोडकर जा चुकी है। वही सरकारी अस्पताल में नौकरी करने वाले आशीष के पिता की मौत भी पूर्व में हो चुकी है। आशीष की प्रेमिका से अवैध सम्बन्ध बनाने वाला आखिर वह व्यक्ति कौन है? जिसका विरोध बराबर आशीष किया करता था। आखिर आशीष और उसकी प्रेमिका को किसने मौत दे दी है। इसे लेकर गांव में चर्चा है, और इस मामले में यदि पुलिस ने सूक्ष्म जांच की तो बहुत जल्द हत्यारा हवालात में होगा।