खुलासा: डिग्री कालेज में छात्रों से हो रही लाखों की अवैध वसूली

डिग्री कालेज में छात्रों से हो रही लाखों की अवैध वसूली

 

– शिक्षा विभाग के अधिकारी मौन प्रधानाचार्य पर नहीं ले रहे कोई ऐक्शन….
– अवैध वसूली के चलते गरीब विद्यार्थी नही ले पाते शिक्षा का लाभ….

नेवादा कौशाम्बी। एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व उत्तर प्रदेश की योगी सरकार शिक्षा स्तर को घर-घर पहुँचाने की कसमें खाते हैं। लेकिन यहाँ पर शिक्षा स्तर को गिरा कर के विद्यालय संचालको ने अधिकारियो की शह पर अवैध वसूली की दीवार खड़ी कर दी है। गरीब विद्यार्थी चाह कर भी शिक्षा पाने की हिम्मत नहीं जुटा पाते। एक तरफ एक्ज़ाम पोल अधिकारी के एक्जाम के समय मोटी रकम की मांग करने की वजह से डिग्री कालेज के प्रबन्धक व कर्मचारियों की अवैध वसूली बन्द होने का नाम नहीं ले रही है।

 

 

बताना जरुरी होगा कि, चायल क्षेत्र के नेवादा ब्लॉक अन्तर्गत पिपरहाई के पास मौजूद कन्धई लाल सिंह स्मारक महाविद्यालय कौशाम्बी के नाम से चल रहा है। नकल माफिया यहाँ पर परीक्षार्थियों से खुलेआम अवैध तरीके से वसूली करते हैं। जो कि, गरीब विद्यार्थी अपने को दबे कुचले महसूस करते हैं। यहाँ पर 2018-19 में बीए व बीएससी तृतीय वर्ष फाईनल कर चुके छात्र छात्रायें भी हैं। उनसे मार्कशीट व टीसी लेते समय विद्यालय में तगड़ी वसूली की जाती है।

Advertisements

 

 

बताते चलें कि, 2018-19 फाईनल के छात्र व छात्राओं की संख्या बीए में लगभग 350 छात्र-छात्रायें और बीएससी, मे लगभग 200 छात्र-छात्रायें जिनका सेन्टर सराय अकिल के रघुराज सिंह डिग्री कालेज में गया था। अप्रैल, मई माह में जो अब छात्र-छात्राओं से मार्कशीट व टीसी, देते समय प्रत्येक बच्चों से नकल फीस 1000 रुपये वा मार्कशीट, टीसी, का 300/रुपये अवैध तरीके से वसूल रहे हैं। आकड़ो पर जाए तो प्रत्येक साल की लगभग सात लाख की अवैध कमाई की जा रही है।

 

अगर किसी जिम्मेदार ने घ्यान नहीं दिया तो उसमें मौजूद कुछ कर्मचारी छात्रों से झगड़े में भी उतारु हो जाते हैं। और बिन पैसा के मार्कशीट व टीसी नहीं देते।