बाजपुर एसआई मित्र पुलिस के नाम पर धब्बा, वर्दी के बटन खोलकर महिलाओं को धमकाया

बाजपुर एसआई मित्र पुलिस के नाम पर धब्बा

– सैंया भय कोतवाल तो डर काहे का….

देहरादून। उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर स्तिथ बाजपुर के पहाड़पुर गांव में बरहैनी चौकी इंचार्ज संदीप पिल्खवाल का एक वीडियो वायरल हो रहा है, वायरल वीडियो में एक पुलिस एसआई ने खुद अपनी वर्दी के बटन खोलकर महिला के ऊपर वर्दी फाड़ने का आरोप लगाया और महिला के ऊपर मुकदमा दर्ज करने की धमकी भी दे डाली।

 

वायरल वीडियो में एसआई पिल्खवाल दो महिलाओं के सामने अपनी वर्दी (शर्ट) के बटन खोलते हुए व हंगामा करते हुए वीडियो में कैद हुए हैं। एसआई पिल्खवाल ने महिलाओं को धमकी भी दी कि, उन्हें वर्दी फाड़ने के आरोप में उन पर मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेज देंगे। महिलाओं को झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देता व अपनी वर्दी का रोब दिखाते एसआई का यह वीडियो बहुत तेजी से वायरल हुआ। इस वीडियो ने पुलिस की मित्रता, सेवा, सुरक्षा पर सवाल ला खड़े कर दिए है। वीडियो के वायरल होने के बाद भी वीडियो में दिख रहे अनुशाषित एस आई व अन्य पुलिस कर्मियों के खिलाफ कोई जांच नहीं हुई है।

Advertisements

बता दें कि, 12 मार्च को पहाड़पुर निवासी मंदीप खैरा पुत्र सुखदेव सिंह को गुंडा एक्ट में निरूद्ध किया गया था। 16 जुलाई को उसके खिलाफ नोटिस जारी किया गया था। इस माह 20 अगस्त को बरहैनी चौकी इंचार्ज संदीप पिल्खवाल अपने अन्य पुलिस कर्मियों के साथ मंदीप खैरा के घर पहुंचे लेकिन मौके पर मंदीप मौजूद नहीं मिला। आरोप है कि, दारोगा व उनके दोनों साथियों ने घर में मौजूद मंदीप के माता-पिता और एक महिला से अभद्रता की। इतना ही नहीं मौके पर मंदीप के परिजनों को धमकी भी दी गई। घर पर हुए इस घटनाक्रम के बाद बरहैनी चौकी में मंदीप खैरा, उसके बुजुर्ग पिता सुखदेव सिंह, माता रंजीत कौर और घर में मौजूद एक अज्ञात महिला व अन्य पर आई.पी.सी.की धारा 332, 504,506 & 353 (जानबूझकर किसी को चोट पहुंचाना, शांति भंग, आपराधिक धमकी देना और सरकारी कार्य मे बाधा डालना) जैसी धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

 

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद सच्चाई सामने आई जिसमें एसआई संदीप पिल्खवाल खुद अपने हाथों से अपनी खाकी वर्दी के बटन खोलते हुए दिखाई दिए। सिर्फ इतना ही नहीं महिलाओं के ऊपर वर्दी पर हाथ डालने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई के लिये धमकाते हुए भी वीडियो में कैद हुए हैं।