केन्द्रीय बजट जनता के लिए लाभकारी

देहरादून। दून वैली महानगर अध्यक्ष पंकज मेसोन ने  एक खास बातचीत के दौरान कहा कि, जनता ने एक बार फिर मोदी जी पर विश्वास किया और प्रचंड बहुमत से उनकी सरकार बनाई। इसी क्रम में मोदी जी ने भी इस काम को आगे बढ़ाया है और मोदी जी ने जो बजट पेश किया है वह जनता के लिए आने वाले समय में बहुत लाभकारी होने वाला है। जिस प्रकार से 2014 से मोदी जी देश में काम कर रहे हैं, उस प्रकार से हर साल कुछ ना कुछ सौगात जनता को दे ही रहे हैं।

 

 

जिस प्रकार से इस बजट में “मैं आपको बता दूं कि, जो जनता के जन-धन योजना के बचत खाते 2014 में खुलवाए गए थे। उन खातों में 5 हजार रु की राशि डालने की बात इस बजट में कही गई है। इसके अलावा जैसे हाउस लोन में 2 लाख तक की छूट मिलती थी, अब उसी हाउस लोन में 3.50 लाख की छूट ( सब्सिडी ) मिला करेगी। मेसोन ने यह भी कहा कि, इस बार जो केंद्र सरकार ने बजट दिया है। वह मध्यम वर्ग के लोगों को देखते हुए और हाई क्लास को धराशाई करते हुए दिया है।

 

 

धाराशाही में इसलिए भी कहूंगा क्योंकि, अगर 5 करोड से ऊपर की आए किसी व्यक्ति की हैं तो, उस पर 7% टैक्स बढ़ा दिया गया। तो जो बड़े-बड़े लोग हैं, कंपनियां हैं, सरकार ने टैक्स बढ़ाने का काम उन पर किया और जो मध्य वर्ग के लोग हैं, उनको इस बजट से फायदा मिलेगा। साथ ही पेट्रोल-डीजल पर जो रेट बढ़े हैं, उसे भी सरकार धीरे-धीरे अपने पाले में लाएगी। क्योंकि, कोई भी काम करने के लिए धीरे-धीरे ही हर चीज होती है। अगर एकदम से हम कोई भी काम करते हैं, तो उसका खामियाजा हमें आने वाले समय में भुगतना पड़ता है। आज अगर डीजल-पेट्रोल पर थोड़े-थोड़े दाम बढ़ाए हैं तो उस पैसे से जनता का ही फायदा होगा ना की जनता का नुकसान। क्योंकि, किसी भी माध्यम से वह पैसा सरकार के पास आएगा और सरकार के माध्यम से जो भी Infrastucture Developement होगी तो इन्हीं पैसों के जरिए होगी।

Advertisements

 

 

जनता का पैसा दोबारा से जनता को ही मिलेगा और लाभ भी जनता का ही होगा। पंकज मेसोन ने कहा कि अगर बात करें शिक्षा की तो इस बजट में शिक्षा पर भी पूरा ध्यान दिया गया है। जो 3 सबसे बड़े कॉलेज है उनकी संख्या वृद्धि की बात इस बजट में कही गई है, और साथ ही एक चीज और देखने को मिलेगी सभी को जैसे अभी तक हिंदुस्तान से बच्चे विदेश में पढ़ने जाते हैं। अब उसी का उल्टा होगा कि, विदेश से बच्चे हिंदुस्तान में पढ़ने आएंगे। इस तरह से शिक्षा का इंफ्रास्ट्रक्चर बन रहा है। जिससे विदेश से आने वाले बच्चों और हमारे देश के बच्चों के बीच आपसी कम्युनिकेशन बनेगा।

 

 

जब वह एक दूसरे से अपनी बात को सांझा करेंगे तो व्यापार भी बढेगा और देश का विकास भी होगा। मेरा ऐसा मानना है कि, सरकार ने जो भी बजट पेश किया है वो सबके हितों को सोचते हुए और जनता के फायदे के लिए, सभी बातों को ध्यान में रखते हुए ही किया है।