उत्तराखंड: पेगासस सॉफ्टवेयर मामले में कल होगा कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन। राजभवन कूच की तैयारी

148
Congress

पेगासस सॉफ्टवेयर मामले में कल होगा कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन। राजभवन कूच की तैयारी

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के पेगासस फोन हैकिंक जासूसी मामले में दिये गये बयान पर उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह में कडा़ पलटवार करते हुए कहा कि, मुख्यमंत्री का बयान ये परिलक्षित करता है कि मुख्यमंत्री को पेगासिस मामले की कोई जानकारी नही है।

प्रीतम सिंह ने कहा कि, एक तरफ तो केन्द्र सरकार कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और उच्च पदों पर बैठे 40 लोगों की जासूसी इज़राइल की साॅफटवेयर कम्पनी पेगासस के माध्यम से करा रही है और दुसरी ओर मुख्यमंत्री उल्टा कांग्रेस पार्टी को ही कटघरे में खडा कर रहे हैं।

प्रीतम बोले, आखिर मुख्यमंत्री बताए कि, देश में किसका विकास हो रहा है और आखिर किस मोर्चे पर देश तरक्की कर रहा है। क्योंकि आज जिस तरह से देश की अर्थव्यवस्था गहरे अन्धे कुएं में जा रही है। वहीं दुसरी ओर मंहगाई और बेरोजगारी से देश की जनता त्राहीमाम है।

वहीं कोरोना को जिस तरह से मिसहैण्डल किया गया, एैसे में क्या मुख्यमंत्री यह कहना चाहते हैं कि, कांग्रेस स्वयं अपने पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की जासूसी कर रही है।

प्रीतम सिंह ने वार्ता के दौरान कहा कि, आखिर केन्द्र सरकार इस पूरे प्रकरण पर जांच बैठाने से क्यों कतरा रही है। आज जब इस गम्भीर प्रकरण ने पूरे देश की राजनीति में भूचाल ला दिया है। ऐसे में कांग्रेस पार्टी मांग करती है कि, गृहमंत्री अमित शाह को नैतिकता के आधार पर तत्काल प्रभाव से इस्तीफा दे देना चाहिए।

प्रीतम सिंह ने कहा कि, इस प्रकरण ने देश की जनता को हतप्रभ कर दिया है। एक ओर जहां लोकतांत्रिक मूल्यों का हनन हो रहा है, वहीं दूसरी ओर व्यक्ति की निजता पर भी सैंधमारी हो रही है। इसलिए इस पूरे प्रकरण की जांच जे०पी०सी० से इसलिए कराया जाना जरूरी है। क्योंकि इस षड्यंत्र के तार अन्दर तक जुडें हुए हो सकते हैं।

प्रीतम ने कहा, जिस तरह से भाजपा की तानाशाही सरकारें लोकतंत्र और संविधान की हत्या करने पर तुली हुई हैं, ऐसे में कांग्रेस पार्टी इस षड्यंत्र का पर्दाफाश करके रहेगी।

साथ ही प्रीतम ने बताया कि, 22 जूलाई 2021 को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर कांग्रेस कार्यकर्ता देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करेंगे। इसी कडी़ में देहरादून में भारी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता राजभवन कूच करेगें।

Previous articleउत्तरकाशी: मुख्यमंत्री ने किया कंकराडी गांव का निरीक्षण। आपदा पीड़ितों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा
Next articleहाईकोर्ट: आदेश का अनुपालन करने पर चीफ एजुकेशन अफसर को कारण बताओ नोटिस जारी